ताज़ा खबर
 

नक्शा विवादः भारत में रची जा रही मेरी सरकार गिराने की साजिश, हो रहीं बैठकें- बोले नेपाली PM केपी शर्मा ओली

नक्शा विवाद के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कहा है कि भारत में उनकी सरकार (नेपाली) को गिराने को लेकर बैठकें की जा रही हैं।

Map Dispute, New Delhi, India, Nepal Government, KP Sharma Oliनेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः प्रदीप दास)

नक्शा विवाद के बीच नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कहा है कि भारत में उनकी सरकार (नेपाली) को गिराने को लेकर बैठकें की जा रही हैं। रविवार (28 जून, 2020) को दिवंगत वामपंथी नेता मदन भंडारी की याद में अपने आधिकारिक आवास पर एक सभा के दौरान उन्होंने दावा किया कि मौजूदा नेपाली सरकार बहुमत में रहेगी और बाहरियों की साजिशें नाकाम हो जाएंगी।

नेपाली पीएम के मुताबिक, “दिल्ली से इस बारे में खबर आ रही है। जरा भारत में हो रही उन बैठकों पर नजर डालिए, जो नेपाल के संविधान में संशोधन (नक्शे में भारत के इलाके को अपना बताने वाले) से जुड़े फैसले के खिलाफ हुई हैं।”

ओली ने आगे कहा कि भारत नेपाल द्वारा किए गए क्षेत्रीय दावे को लेकर नाराज है। बकौल नेपाली पीएम, “नेपाल का राष्ट्रवाद इतना कमजोर नहीं है। हमने अपना नक्शा बदला है और अगर देश का प्रधानमंत्री हटाया जाता है, तब नेपाल के लिए अकल्पनीय होगा।” भारत की ओर इशारा करते हुए वह बोले कि कुछ लोगों को लगता है कि नेपाल का नया नक्शा ‘अपराध’ है।

ओली के मुताबिक, “आपने सुना होगा कि प्रधानमंत्री 15 दिन में बदल जाएंगे। अगर मैं इस समय हटा दिया जाता हूं, तब कोई भी नेपाल के पक्ष में बोलने की हिम्मत नहीं रख पाएगा। ऐसा इसलिए, क्योंकि जो भी यह बात बोलेगा उसे भी फौरन हटा दिया जाएगा। मैं यहां अपने लिए नहीं बोल रहा हूं। मैं देश के लिए बोल रहा हूं। हमारी पार्टी और हमारी संसदीय पार्टी ऐसे जालों में नहीं फंसने वाली है। जो लोग ऐसी कोशिशें कर रहे हैं, उन्हें ऐसा करने दीजिए।”

बता दें कि नेपाल की संसद के निचले सदन में 13 जून को दूसरा संविधान संशोधन निर्विरोध पारित हुआ था, जिसके तहत नए नक्शे को संवैधानिक स्टेटस मिल गया था। बिल पर 18 जून को वहां के राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने हस्ताक्षर किए थे।

दरअसल, इस नक्शे में नेपाल ने तीन क्षेत्रों को अपना बताते हुए शामिल कर लिया है, जिन पर भारत अपना दावा करता आया है। ये विवादित क्षेत्र- Limpiyadhura, Kalapani और Lipulekh हैं। ये भारत के उत्तराखंड के तहत आते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘टिड्डियों और हारे लोगों से मुल्क परेशान’, नरेंद्र मोदी के मंत्री का निशाना- कांग्रेसी नेताओं के बयान हैं ‘पाप’, भारत विरोधी ताकतों को दे रहे ऑक्सीजन
2 PM Cares Fund में चीन का दान! इन पांच चीनी कंपनियों से ही मिला है 50 करोड़ का चंदा
3 MP: शिवराज सिंह चौहान सरकार को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे ‘अतिमहात्वाकांक्षी’ कैलाश विजयवर्गीय- पार्टी नेता ने ही खोला BJP महासचिव के खिलाफ मोर्चा