ताज़ा खबर
 

विकास से खत्म होगा माओवाद : सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि माओवाद की समस्या का समाधान विकास से संभव है। देश की जनता के विकास के लिए प्राकृतिक संसाधन लोगों के हाथ में होने चाहिए। झारखंड के डाल्टनगंज और गुमला में रविवार को आयोजित चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए सोनिया ने कहा,‘नक्सल समस्या महज कानून व्यवस्था की […]

Author November 24, 2014 8:37 AM
झारखंड में आयोजित चुनावी रैली में सोनिया गांधी ने झारखंड के आधे-अधूरे विकास के लिए भाजपा को ज़िम्मेदार ठहराया

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि माओवाद की समस्या का समाधान विकास से संभव है। देश की जनता के विकास के लिए प्राकृतिक संसाधन लोगों के हाथ में होने चाहिए। झारखंड के डाल्टनगंज और गुमला में रविवार को आयोजित चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए सोनिया ने कहा,‘नक्सल समस्या महज कानून व्यवस्था की समस्या नहीं है।’

उन्होंने कहा कि माओवाद की समस्या का समाधान विकास से और संविधान की रूपरेखा के भीतर ही तलाशा जा सकता है। उन्होंने कहा कि गुमराह हुए युवाओं को मुख्यधारा में लौटाया जा सकता है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जब 14 साल पहले झारखंड बनाया गया था, तो केवल तीन जिले इस समस्या से पीड़ित थे। अब यह लगभग पूरे राज्य में ही फैल गई है। सोनिया ने कहा कि कांग्रेस की पहल पर आदिवासियों, गरीबों, दलितों, पिछड़ा वर्ग के लोगों और अल्पसंख्यकों को भूमि अधिग्रहण अधिनियम के तहत अधिकार दिए गए थे। लेकिन केंद्र की भाजपा सरकार इसमें संशोधन करने का विचार कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा छोटानागपुर और संथाल परगना काश्तकारी कानूनों में बदलाव का प्रयास कर रही है। इसमें झारखंड में आदिवासियों की जमीन का संरक्षण का प्रावधान है।

सोनिया ने यहां 25 नवंबर को होने वाले पहले चरण के मतदान के लिए प्रचार के आखिरी दिन पार्टी उम्मीदवारों के समर्थन में कहा,‘हम अधिनियम में किसी भी बदलाव का विरोध करते हैं।’

कांग्रेस अध्यक्ष ने दावा किया कि पिछली यूपीए सरकार के प्रयास और उसकी विकास योजनाओं से ही आज देश को विकसित देश बनने की दिशा में बढ़ने में मदद मिल रही है। झारखंड की समस्याओं के लिए भाजपा पर हमला बोलते हुए सोनिया ने कहा कि लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताना चाहिए कि राज्य में 14 साल में 11 साल भाजपा सत्ता में रही है। लेकिन यहां समस्याएं जस की तस रहीं। उन्होंने आरोप लगाया,‘जब यूपीए सरकार केंद्र में थी तो झारखंड को बिजली, सड़क, पेयजल और स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों में कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के लिए करोड़ों रुपए दिए गए थे लेकिन भाजपा शासित राज्य में उसका कोई इस्तेमाल नहीं किया गया।’

सोनिया ने कहा,‘उन्होंने (भाजपा ने) रोजगार के अवसर भी पैदा नहीं किए। झारखंड में 40 लाख बीपीएल परिवार हैं। यह चिंता की बात है।’ सोनिया गांधी ने मोदी पर हमला करते हुए झारखंड का कम विकास होने के लिए भाजपा को जिम्मेदार ठहराया क्योंकि राज्य के अस्तित्व में आने के 14 साल में से 11 साल भाजपा सत्ता में रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने यहां डाल्टनगंज विधानसभा क्षेत्र से पार्टी उम्मीदवार और झारखंड के ग्रामीण विकास मंत्री केएन त्रिपाठी के समर्थन में सभा में आरोप लगाया, ‘जब यूपीए सरकार केंद्र में थी तो झारखंड को बिजली, सड़क, पेयजल और स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों में कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के लिए करोड़ों रुपए दिए गए थे, लेकिन भाजपा शासित राज्य में उसका कोई इस्तेमाल नहीं किया गया।’

झारखंड में पहले चरण में 25 नवंबर को मतदान होगा। इसके लिए रविवार को प्रचार का आखिरी दिन है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App