केरल में भारी बारिश के बाद भयानक बाढ़, 18 लोगों की मौत, कई लापता, दिल्ली में भी अलर्ट

भारी बारिश के चलते केरल के कुट्टीकल, कोट्टायम, कोक्यार, इडुकी और पथानामिट्टा जिले में जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हो गया है। शनिवार को मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने केरल में उपजे हालात को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक भी की थी।

लगातार हो रही बारिश की वजह से केरल के कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। (फोटो: पीटीआई)

केरल में शनिवार से ही हो रही लगातार बारिश की वजह से भयानक बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं। इस बाढ़ की वजह से राज्य में अबतक करीब 18 लोगों की मौत हो चुकी है और दर्जनों लोग लापता हो गए हैं। हालात को देखते हुए राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ और सेना को लगाया गया है। वहीं मौसम विभाग ने बारिश को लेकर रविवार को दिल्ली-एनसीआर समेत कई राज्यों को अलर्ट जारी किया है।

शनिवार से ही केरल के दक्षिणी और मध्य क्षेत्रों में जमकर बारिश हो रही है। जिसकी वजह से इन क्षेत्रों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। बाढ़ को देखते हुए राज्य सरकार को एनडीआरएफ और सेना की मदद लेनी पड़ी है। केरल के दक्षिणी और मध्य हिस्सों में एनडीआरएफ की 11 टीमों, सेना की दो टीमों और रक्षा सेवा कोर की दो टीमों को तैनात किया गया है।

भारी बारिश के चलते केरल के कुट्टीकल, कोट्टायम, कोक्यार, इडुकी और पथानामिट्टा जिले में जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हो गया है। शनिवार को मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने केरल में उपजे हालात को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक भी की थी। बैठक के बाद उन्होंने कहा कि राज्य के कुछ हिस्सों में बेहद गंभीर स्थिति है। हम लोगों की जान बचाने का हर संभव प्रयास करेंगे। स्थिति से निपटने के लिए हमने सेना के तीनों अंगों से मदद मांगी है और जिलों में सरकार द्वारा राहत शिविर भी लगाए जा रहे हैं।

केरल में बचाव कार्य के लिए एमआई-17 और सारंग हेलीकॉप्टर को पहले से ही स्टैंडबाय मोड में रख दिया गया है। भारी बारिश और उसकी वजह से हो रही क्षति के कारण भी कई जिलों में बचाव कार्य प्रभावित हो रहा है। कोट्टायम में खराब मौसम के कारण हेलीकॉप्टर रेस्क्यू ऑपरेशन नहीं शुरू कर पाया. कुट्टीकल में पुल क्षतिग्रस्त होने की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन को रोकना पड़ा। वहीं भारतीय नौसेना भी बचाव कार्य में सहायता करने के लिए तैयार है। भारतीय नौसेना की दक्षिणी कमांड ने कहा कि वह बचाव अभियान में स्थानीय प्रशासन की सहायता के लिए पूरी तरह से तैयार है।

दक्षिणी राज्यों के साथ ही उत्तर भारत के कई राज्यों में भी मौसम के रुख में परिवर्तन हो रहा है। भारतीय मौसम विभाग ने उत्तर भारत के कई राज्यों के लिए अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने दिल्ली-एनसीआर, उत्तरप्रदेश, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान में बारिश का अलर्ट जारी किया है।  इसके अलावा आंध्र प्रदेश, ओडिशा, छत्तीसगढ़, जम्मू और कश्मीर तथा लद्दाख को भी अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने 19 अक्टूबर तक बारिश होने का अनुमान जताया है। 

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।