ताज़ा खबर
 

Mann ki Baat: नरेंद्र मोदी ने संत रविदास को याद कर कहा- समाज को जाति-पाति में बांटना है गलत

Mann Ki Baat: पीएम के रेडिया कार्यक्रम मन की बात का यह 52वां एपिसोड था, पर यह 2019 का उनका पहला प्रसारण था। वह हर माह के अंतिम इतवार को इस कार्यक्रम के जरिए देशवासियों से संवाद करते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (पीटीआई फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (27 जनवरी) को 2019 की पहली ‘मन की बात’ की। रेडियो कार्यक्रम में उन्होंने सिद्धगंगा मठ के महंत श्री शिवकुमार स्वामी, स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस और संत रविदास को याद किया। जातिगत राजनीति पर पीएम ने कहा कि समाज को जाति-पाति में बांटना ठीक बात नहीं है। शुरुआत में वह बोले, “21 जनवरी को शोक समाचार मिला। कर्नाटक में सिद्धगंगा मठ के डॉक्टर शिवकुमार स्वामी नहीं रहे। उन्होंने पूरा जीवन समाज-सेवा में लगाया। उनकी प्राथमिकता रहती थी कि लोगों को भोजन, आश्रय, शिक्षा और आध्यात्मिक ज्ञान मिले व किसानों का कल्याण हो।”

बकौल पीएम मोदी, “25 जनवरी को चुनाव आयोग (ईसी) का स्थापना दिवस था, जो राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनता है। ईसी बड़े स्तर पर चुनाव कराता है, जिस पर प्रत्येक देशवासी को गर्व होना स्वाभाविक है। एक ओर हिमाचल में समुद्र तल से 15,000 फीट ऊंचाई पर मतदान केंद्र होता है तो अंडमान-निकोबार के द्वीप समूह में दूर-दराज में भी वोटिंग कराई जाती है। 2019 में लोकसभा चुनाव है। यह पहला अवसर होगा, जहां 21वीं सदी में जन्मे युवा चुनावों में वोट डालेंगे। अब वे देश में निर्णय प्रक्रिया का हिस्सा बनेंगे। ”

नेताजी का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “भारत ने कई महापुरुषों को जन्म दिया, जिनने मानवता के लिए अद्भुत, अविस्मरणीय कार्य किए हैं। ऐसे महापुरुषों में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस भी थे। मैं लाल किले में, क्रान्ति मंदिर में नेताजी से जुड़ी यादों के दर्शन कर रहा था, तब मुझे नेताजी के परिवार के सदस्यों ने खास टोपी भेंट की थी। कभी नेताजी उसे पहनते थे। मैंने संग्रहालय में उसे रखवाया, जिससे वहां आने वाले भी उसे देखें। नेताजी हमेशा वीर सैनिक और कुशल संगठनकर्ता के रूप में याद किए जाएंगे। ‘दिल्ली चलो’, ‘तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा’ जैसे ओजस्वी नारों से उन्होंने हर भारतीय के दिल में जगह बनाई।”

सुनें मन की बात यहांः

रेडियो कार्यक्रम के 52वें एपिसोड में पीएम ने बताया, “आपने अभी तक गुरुदेव रबीन्द्रनाथ टैगोर को एक लेखक और एक संगीतकार के रूप में जाना होगा। लेकिन मैं बताना चाहूंगा कि गुरुदेव एक चित्रकार भी थे। हमारे संतों ने अपने विचारों और कार्यों के माध्यम से सद्भाव, समानता और सामाजिक सशक्तिकरण का सन्देश दिया है। ऐसे ही एक संत थे, संत रविदास।”

mann ki baat, mann ki baat live, mann ki baat today, mann ki baat in hindi, narendra modi, pm modi, modi, modi mann ki baat, pm modi mann ki baat, narendra modi mann kibaat, modi mann ki baat live, modi mann ki baat live streaming, modi mann ki baat live updates in hindi पीएम ने संत रविदास की कही बातों को याद दिलाते हुए कहा- जैसे केले के तने को छीलने पर अंत में कुछ नहीं निकलता, उसी तरह इंसान भी जातियों में बंटने के बाद इंसान नहीं रह जाता। (फोटोः BJP4India/टि्वटर)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App