ताज़ा खबर
 

ट्रैफिक नियम तोड़ने पर पुलिस ने अपनाया सबक सिखाने का अनोखा अंदाज, बगैर हेलमेट पकड़े गए लोगों से लिखवाया ‘क्यों नहीं पहना?’ पर निबंध

भोपाल में ट्रैफिक नियम तोड़ने वाले के खिलाफ एक अनोखी पहल शुरू की गई है जिसमें बिना हेलमेट पहने लोगों को निबंध लिखने के लिए कहा जा रहा है।

प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ट्रैफिक पुलिस ने यातायत नियमों के प्रति जागरुक करने के लिए एक अनूठी पहल शुरू की है। जिसमें बिना हेलमेट पहने दोपाहिया वाहन सवारों को एक निबंध लिखने के लिए कह रही है। यह पहल शुक्रवार (17 जनवरी) को समाप्त होने वाले सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान शुरू की गई है। पुलिस ने बताया कि निबंध लिखने वालों को 2 दिन बाद टॉप 3 विजेताओं को पुरस्कार स्वरूप हेलमेट दिया जाएगा।

100 शब्दों का निबंध लिखवाया: बता दें कि यह अभियान 11 जनवरी से चलाया जा रहा है। इस अभियान के छठवें दिन 150 लोगों को बिना हेलमेट पहने बाइक चलाते पकड़ा गया। पकड़े गए लोगों से पुलिस ने “दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट क्यों नहीं पहना था?” विषय पर 100 शब्दों का निबंध लिखवाया। पुलिस ने बताया कि जब लोगों से पूछा गया कि हेलमेट क्यों नहीं पहना  है तो ज्यादात्तर लोगों ने सॉरी बोलकर भूलने की बात कही।

Hindi News Live Hindi Samachar 17 January 2020: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

आगे भी यह पहल जारी रहेगी: बता दें कि अतिरिक्त सड़क अधीक्षक (एएसपी) प्रदीप चौहान ने कहा कि, “सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान बिना हेलमेट के पाए जाने वाले दो-पहिया वाहनों के सवारों को यह बताने के लिए 100 शब्दों में एक निबंध लिखावाया जा रहा है कि वे इस आवश्यक सुरक्षा नियम का उल्लंघन क्यों कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा सप्ताह की समाप्ति (11 से 17 जनवरी) के बाद भी यह पहल जारी रहेगी।

 नेत्र जांच शिविर भी आयोजित किया गया: पिछले छह दिनों में भोपाल में ट्रैफिक पुलिस ने यातायात नियमों के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए रैलियां निकाली हैं। इस दौरान उन्होंने स्थानीय निवासियों को यातायात नियमों के बारे में सूचित करने के लिए पैम्फलेट भी वितरित किए। एक अधिकारी ने कहा कि ऑटो चालकों के लिए एक नेत्र जांच शिविर भी आयोजित किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 तिहाड़ से छूटते ही चंद्रशेखर आजाद का CAA पर हल्ला बोल, मंदिर-गुरुद्वारे के बाद पहुंचे जामा मस्जिद, जमकर विरोध-प्रदर्शन
2 कोर्ट ने कहा था 4 हफ्ते दिल्ली से रहें बाहर, लेकिन CAA के खिलाफ प्रदर्शन करने जामा मस्जिद पहुंच गए भीम आर्मी चीफ
3 विश्व भारती यूनिवर्सिटी के हॉस्टल पर टूट पड़ी भीड़, छात्रों को लाठी-डंडों से पीट डाला
ये पढ़ा क्या?
X