ताज़ा खबर
 

Bharat Bandh: ममता बनर्जी का लेफ्ट पार्टियों पर हमला, कहा- गुंडागर्दी कर पब्लिसिटी पाने से बेहतर है ‘राजनैतिक मौत’

Bharat Bandh: लेफ्ट पार्टियों के भारत बंद पर भड़की ममता बनर्जी ने कहा कि वे बंद का आह्वान करके और बसों में बम फेंककर सस्ता प्रचार करना चाहते हैं। इस प्रचार को हासिल करने के बजाय, राजनीतिक मौत बेहतर है।

caa protestपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Express File photo: Partha Paul)

Bharat Bandh: पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बुधवार (8 जनवरी) को भारत बंद (bharat Bandh) बुलाए जाने पर लेफ्ट पार्टियों की तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि वे बंद का आह्वान करके और बसों में बम फेंककर सस्ता प्रचार करना चाहते हैं। लेकिन इस प्रचार को हासिल करने के बजाय, राजनीतिक मौत बेहतर है। ममता बनर्जी ने कहा कि सीपीआईएम की कोई विचारधारा नहीं है और यह ‘दादागिरी’ है, आंदोलन नहीं।

लेफ्ट पार्टियों के भारत बंद पर भड़की ममता बनर्जी: पश्चिम बंगाल की सीएम ने कहा, “उनके (वाम दलों) द्वारा बुलाए गए बंदों को पहले ही जनता ने खारिज कर दिया गया है। वे बंद का आह्वान करके और बसों में बम फेंककर सस्ता प्रचार करना चाहते हैं। इस प्रचार को हासिल करने के बजाय, राजनीतिक मौत बेहतर है।”

Hindi News Today, 8 January 2020 LIVE Updates: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

बंगाल में लेफ्ट का बंद: पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने आगे कहा कि CPIM की कोई विचारधारा नहीं है। रेलवे पटरियों पर बम लगाना ‘गुंडागर्दी’ ही इनका काम है। आंदोलन के नाम पर यात्रियों की पिटाई की जा रही है और पथराव किया जा रहा है। यह ‘दादागिरी’ है, आंदोलन नहीं। मैं इसकी निंदा करती हूं।

क्या बोलीं ममता बनर्जी: उन्होंने कहा कि वह बंद के मकसद का समर्थन करती हैं, लेकिन उनकी पार्टी और सरकार किसी भी तरह के बंद के विरोध में हैं। गौरतलब है कि बंद केंद्र की आर्थिक नीतियों, संशोधित नागरिकता कानून और प्रस्तावित राष्ट्रव्यापी एनआरसी के विरोध में बुलाया गया है।ममता ने कहा, ‘‘हम बंगाल में किसी तरह के बंद की इजाजत नहीं देंगे।’’

Next Stories
1 JNU हिंसा यूनिवर्सिटी प्रशासन की मिलीभगत और पुलिस की निष्क्रियता के बिना संभव नहीं; शिक्षक संघ का बड़ा आरोप
2 Kerala Akshaya Lottery AK-427 Today Results: परिणाम घोषित, यहां देखें विजेताओं की सूची
3 मुजफ्फरपुर शेल्टर कांड: किसी लड़की की हत्या के सबूत नहीं, CBI ने अदालत को दी जानकारी
ये पढ़ा क्या?
X