ताज़ा खबर
 

सियासी नोकझोक अपनी जगह, ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को भेजा बंगाली आम

सियासत में भले ही राजनीतिक दल एक दूसरे को कड़वा स्वाद चखाते रहते हों लेकिन आम के इस सीजन का इस्तेमाल राजनीतिक रिश्तों में मिठास लाने के लिए भी किया जा रहा है।

पश्चिम बंगाल सीएम ममता बनर्जी, दूसरी तरफ PM नरेंद्र मोदी (फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

सियासत में भले ही राजनीतिक दल एक दूसरे को कड़वा स्वाद चखाते रहते हों लेकिन आम के इस सीजन का इस्तेमाल राजनीतिक रिश्तों में मिठास लाने के लिए भी किया जा रहा है। आमतौर पर अपनी भलमनसाहत दिखाने के लिए राजनेता एक दूसरे को तोहफे देते नजर आते हैं। ऐसा ही कुछ इस बार हुआ है। बंगाल चुनाव से लेकर अब तक कई मुद्दों पर पीएम मोदी पर हमलावर रहने वाली बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने देश के प्रधानमंत्री के लिए आम का तोहफा भेजा है।

ममता बनर्जी ने पीएम मोदी के लिए आम भेजे हैं। जिसमें बंगाल में मिलने वाले आम की हर वैराइटी है। बता दें कि ममता बनर्जी ने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को भी आम भेजे हैं। आम की कूटनीति ममता बनर्जी के लिए नई नहीं है। 2011 से जब से ममता सीएम बनी हैं वे दिल्ली में बैठे बड़े राजनेताओं के आम भेजती रही हैं।

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर उनके राज्य को पर्याप्त संख्या में कोविड टीकों से वंचित रखने का आरोप लगाया। उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल को कोविड-19 रोधी टीकों की पर्याप्त खुराकें नहीं दी गई है जबकि छोटे राज्यों को भी काफी संख्या में टीकें उपलब्ध कराये गये है। उन्होंने कहा कि टीकों की कम आपूर्ति के बावजूद, राज्य में सरकार और निजी निकायों द्वारा मंगलवार तक कम से कम 2.17 करोड़ खुराक लोगों को दी जा चुकी हैं।

बनर्जी ने राज्य सचिवालय ‘नबन्ना’ में पत्रकारों से कहा, ‘‘हमें पर्याप्त संख्या में टीके नहीं दिए जा रहे हैं। जबकि अन्य राज्यों को कम से कम तीन करोड़ खुराक मिली है, हमें एक करोड़ कम मिली है। अगर हमें एक करोड़ और खुराक मिलती, तो हम एक करोड़ अतिरिक्त आबादी को टीका लगा सकते थे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र विभिन्न राज्यों को टीके उपलब्ध करा रहा है लेकिन पश्चिम बंगाल को वंचित कर रहा है। हमारा भी एक राज्य है।’’

मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव एच के द्विवेदी को इस मुद्दे पर केन्द्र को पत्र लिखने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने दावा किया कि पश्चिम बंगाल को केवल 1.99 करोड़ खुराक मिली है, उत्तर प्रदेश को लगभग 3.5 करोड़ और महाराष्ट्र को 3.17 करोड़ खुराक मिली है।

Next Stories
1 बिहार का सुशासन! जदयू विधायक के बेटे को मिला ठेका, दो बार शिलान्यास, पुल बना नहीं, ब्लैकलिस्ट करने के लिए लिखा गया, पर मिला गया एक्सटेन्शन
2 किसानों को भाजपा ने कहा, खालिस्तानी, गुंडे, कांग्रेस प्रवक्ता बोले- मोदी के साथ आया था दीप सिद्धू का फोटो
3 गुजरात में AAP कार्यकर्ताओं पर हमला! केजरीवाल बोले- डरी हुई भाजपा से कोई सुरक्षित नहीं
ये पढ़ा क्या?
X