ताज़ा खबर
 

श्रीश्री रविशंकर बोले- मलाला ने ऐसा क्‍या किया कि उसे नोबेल पुरस्‍कार मिला

आर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक श्री श्री रविशंकर नए विवाद में फंस गए हैं। रविशंकर ने कहा कि मलाला युसुफजई नोबेल पुरस्‍कार लायक नहीं है।

Sri Sri Ravi Shankar, Malala Yousafzai, Maharashtra Drought, Latur, Nobel Peace Prize, art of living, Sri Sri Ravi Shankar latest newsआध्‍यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर

आर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक श्री श्री रविशंकर नए विवाद में फंस गए हैं। रविशंकर ने कहा कि मलाला युसुफजई नोबेल पुरस्‍कार लायक नहीं है। उन्‍होंने कहा,’उस लड़की ने कुछ भी नहीं किया।’ उनसे पूछा गया था कि मलाला को पुरस्‍कार मिला तो क्‍या गलत था? इससे पहले एक अंग्रेजी अखबार ने रिपोर्ट दी थी कि श्रीश्री रविशंकर ने कहा था कि उन्‍हें नोबेल पुरस्‍कार ऑफर किया गया था लेकिन उन्‍होंने मना कर दिया था। उन्‍होंने कहा कि वे काम करने में विश्‍वास करते हैं न कि सम्‍मान में।

रविशंकर ने यह बयान महाराष्‍ट्र के सूखा पीडि़त लातूर जिले में दिया था। वहां पर वे सूखा राहत काम का जायजा लेने गए थे। वहीं आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से बयान जारी कर इस रिपोर्ट का खंडन किया गया। आर्ट ऑफ लिविंग की ओर से कहा गया कि अंग्रेजी अखबार के रिपोर्टर ने रविशंकर के बयान को मिसकोट किया। इसके लिए उन्‍हें माफी मांगनी चाहिए।

बयान के अनुसार, ‘पूछा गया था कि क्‍या आप यह काम नोबेल पुरस्‍कार के लिए कर रहे हैं। इस पर उन्‍होंने जवाब दिया, बिल्‍कुल नहीं। मैं एक पुरस्‍कार से क्‍या करूंगा। हम सालों से सामाजिक काम कर रहे हैं और यह पुरस्‍कारों के लिए नहीं है। जब एक 16 साल की लड़की को बिना कुछ किए पुरस्‍कार मिल जाता है तो आपको शांति पुरस्‍कार पाने के लिए कुछ करने की जरूरत नहीं। इसके पीछे राजनीतिक कारण भी काम करते हैं।

Read Also: श्री श्री रविशंकर बोले- मैंने शांति वार्ता की कोशिश की तो ISIS ने भेजी सिर कटे शख्‍स की फोटो

Next Stories
1 भाजपा के कार्यक्रम में संजय दत्त के शामिल होने से कांग्रेस परेशान, शिवसेना नाराज
2 मुंबई: दो मंजिली इमारत के गिरने से छह की मौत, कई के दबे होने की आशंका
3 आदर्श घोटालाः इमारत गिराने का आदेश कांग्रेस के लिए बड़ा झटका, जानें क्या है पूरा मामला ?
ये पढ़ा क्या?
X