महाराष्ट्रः ‘अभी अभी सरकार बनी है, अभी जेबें भरना बाकी है’, मंत्री का बयान; VIDEO हो रहा वायरल

महाराष्ट्र सरकार की मंत्री के इस बयान पर विवाद हो गया है और विपक्षी पार्टी भाजपा ने इस पर कड़ा विरोध जताया है। यशोमति ठाकुर के इस बयान का एक वीडियो भी सामने आया है।

yashomati thakur
महाराष्ट्र सरकार में मंत्री यशोमति ठाकुर। (एएनआई इमेज)

महाराष्ट्र की महिला एवं बाल विकास मंत्री और कांग्रेस नेता यशोमति ठाकुर के एक बयान को लेकर हंगामा हो गया है। दरअसल यशोमति ठाकुर ने शनिवार को अमरावती में स्थानीय निकाय चुनाव के दौरान प्रचार करते हुए कहा कि ‘अभी-अभी सरकार बनी है, अभी तो जेबें गर्म करना बाकी है।’ महाराष्ट्र सरकार की मंत्री के इस बयान पर विवाद हो गया है और विपक्षी पार्टी भाजपा ने इस पर कड़ा विरोध जताया है।

यशोमति ठाकुर के इस बयान का एक वीडियो भी सामने आया है। भास्कर की एक रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो में सुनाई दे रहा है कि यशोमति ठाकुर एक जनसभा के दौरान संबोधित करते हुए कह रही हैं कि “बीते पांच साल की बात आप सभी को पता है। पिछली सरकार हमारी नहीं थी। हमारी सरकार अभी अभी बनी है और हमनें अभी शपथ ली है। हमारी जेबें अभी गर्म नहीं हुई हैं। जो लोग विपक्ष में हैं उनकी जेबें काफी गहरी हैं। ऐसे में अगर वो आपके पास आएं और अपनी जेब में से कुछ हिस्सा दें तो उसे मना मत कीजिए।”

वीडियो में सुनाई दे रहा है कि महाराष्ट्र सरकार की मंत्री कहती हैं कि “घर आई लक्ष्मी को कौन मना करता है, लेकिन वोट सिर्फ कांग्रेस को ही दीजिए।” वहीं जैसे ही यह वीडियो सामने आया विपक्षी पार्टी भाजपा ने मंत्री को निशाने पर ले लिया।

भाजपा नेता किरीट सौमैया ने प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी से मिलकर मंत्री यशोमति ठाकुर के बयान की शिकायत की है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता मतदाताओं को प्रलोभन देकर मतदाताओं को अपने पक्ष में करने का प्रयास कर रही हैं और मतदाताओं को वोट के बदले नकदी स्वीकार करने के लिए कह रही हैं।

वहीं यशोमति ठाकुर ने बयान पर विवाद बढ़ता देख इसे लेकर अपनी सफाई दी है और उनकी बातों को तोड़-मरोड़कर पेश करने का आरोप लगाया। उन्होंने उनके बयान को डब कर गलत तरीके से प्रचारित करने का भी आरोप लगाया।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।