कोर्ट से झटके के बाद महाराष्ट्र के मंत्री बोले- मेरी रेकी हो रही, कुछ लोग झूठे केस में फंसाना चाहते हैं

नवाब मलिक ने हमें लगता है कि अनिल देशमुख के साथ जो हुआ है, उसी तरह की कोशिश कुछ लोग मेरे साथ भी कर रहे हैं। मेरे खिलाफ झूठी शिकायत भी दर्ज कराई गई है।

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि उनके घर की रेकी की जा रही है और उन्होंने पुलिस से इसकी जांच करने के लिए कहा है। (फोटो: पीटीआई)

एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े के परिवार के ऊपर हमलावर रहने को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट से झटका लगने के बाद महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने आरोप लगाया है कि कुछ लोग उन्हें झूठे मुक़दमे में फंसाने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कुछ लोग मेरे घर और स्कूल की रेकी कर रहे हैं।

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री व एनसीपी नेता नवाब मलिक ने कहा कि कल हमने कैमरे के साथ दो लोगों की तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा की। जब से आर्यन खान का मामला शुरू हुआ और हमने गलत कामों के खिलाफ आवाज उठाना शुरू किया तो हमें जानकारी मिल रही थी कि आपके घर, दफ्तर, स्कूल की जानकारी निकाली जा रही है। लेकिन जब मैं विदेश के दौरे पर था कुछ लोगों ने मिलकर दो लोगों को पकड़ा। जो तस्वीरें खींच रहे थे। 

नवाब मलिक ने यह भी कहा कि हम इसकी जानकारी मुंबई पुलिस के आयुक्त को देंगे। पुलिस से जांच करने के लिए कहेंगे। मेरे खिलाफ बहुत सारे षड्यंत्र हुए हैं और इसके साक्ष्य मेरे पास हैं। उसको लेकर भी हम पुलिस को जानकारी देंगे। हमें लगता है कि अनिल देशमुख के साथ जो हुआ है, उसी तरह की कोशिश कुछ लोग मेरे साथ भी कर रहे हैं। मेरे खिलाफ झूठी शिकायत भी दर्ज कराई गई है।

बता दें कि गुरुवार को एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े और उसके परिवार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक को बॉम्बे हाई कोर्ट ने झटका दिया। कोर्ट ने वानखेड़े के पिता की याचिका पर सुनवाई करते हुए नवाब मलिक को निर्देश दिया कि वे वानखेड़े परिवार के खिलाफ सोशल मीडिया पर कुछ भी शेयर नहीं करेंगे और ना ही कोई बयानबाजी करेंगे।

गौरतलब है कि क्रूज शिप ड्रग्स मामले में शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ़्तारी के बाद से ही नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े पर निशाना साधना शुरू कर दिया था। उन्होंने समीर वानखेड़े पर प्राइवेट आर्मी बनाकर लोगों से पैसे वसूलने का भी आरोप लगाया था। इतना ही नहीं उन्होंने वानखेड़े पर सरकारी नौकरी हासिल करने के लिए फर्जी दस्तावेज बनाने का भी आरोप लगाया था।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।