ताज़ा खबर
 

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनावः BJP की कैंडिडेट लिस्ट में पंकजा मुंडे-एकनाथ खड़से के नाम नहीं, पर पूर्व NCP सांसद को मौका

पंकजा, चचेरे भाई और राकांपा नेता धनंजय मुंडे से परली से 2019 का विधानसभा चुनाव हार गई थी, जबकि खडसे को उनकी पार्टी ने विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया था। उन्होंने हाल में घोषणा की थी कि वह 21 मई का चुनाव लड़ना चाहते हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: May 8, 2020 8:38 PM
पंकजा मुंडे। (फाइल फोटोः FB/PankajaGopinathMunde)

महाराष्ट्र विधान परिषद के 21 मई को होने वाले चुनाव के लिये भाजपा उम्मीदवारों की सूची में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के पूर्व सांसद रंजीतसिंह मोहिते पाटिल और तीन अन्य के नाम शामिल हैं। प्रदेश भाजपा के एक पदाधिकारी ने बताया कि यह सूची शुक्रवार को दिल्ली से जारी की गई। इस सूची में भाजपा के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे और पंकजा मुंडे को जगह नहीं मिल पाई, जबकि गोपीचंद पडलकर, प्रवीण दतके और अजीत गोपछड़े जैसे अपेक्षाकृत कम चर्चित चेहरों को जगह दी गई है।

पिछले साल लोकसभा चुनावों से पहले पार्टी में शामिल होने वाले रंजीतसिंह मोहिते पाटिल महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री विजयसिंह मोहिते पाटिल के बेटे हैं। रंजीतसिंह औपचारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गये थे, लेकिन उनके पिता अभी तक औपचारिक रूप से भगवा पार्टी में शामिल नहीं हुए हैं।

बीते साल हुए विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा में शामिल हुए पडलकर ने बारामती से अजित पवार के खिलाफ चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें पराजय का सामना करना पड़ा था। पवार ने छह लाख से अधिक मतों से इस सीट पर फिर से कब्जा कर लिया।

Coronavirus in India Live Updates

विधान परिषद चुनाव नौ सीटों पर होने हैं, जिसके लिए निर्वाचक मंडल 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा है। एक उम्मीदवार को जीतने के लिए 29 मतों की आवश्यकता है। यह चुनाव इसलिए महत्वपूर्ण हो गया है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी चुनाव मैदान में हैं।

उल्लेखनीय है कि पंकजा मुंडे अपने चचेरे भाई और राकांपा नेता धनंजय मुंडे से परली से 2019 का विधानसभा चुनाव हार गई थी, जबकि खडसे को उनकी पार्टी ने विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया था। उन्होंने हाल में घोषणा की थी कि वह 21 मई का चुनाव लड़ना चाहते हैं।

Bihar Coronavirus LIVE Updates

विधानसभा में भाजपा के 105 सदस्य हैं और पार्टी ने छोटी पार्टियों के 11 सदस्यों तथा निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल होने का भी दावा किया है। उसे अपने चार उम्मीदवारों की जीत के लिए पहली प्राथमिकता वाले 116 मतों की आवश्यकता है। सत्तारूढ़ गठबंधन महाराष्ट्र विकास आघाडी (एमवीए) के तीनों घटक दलों– शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस–के बीच बातचीत चल रही है।

कांग्रेस दूसरा उम्मीदवार उतारने पर अड़ी हुई हैं। अगर यह गठबंधन पांच से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ता है, तो मतदान कराना पड़ेगा। राज्य विधानसभा में विश्वासमत के दौरान, एमवीए को 169 विधायकों का समर्थन प्राप्त हुआ था, जबकि चार विधायकों (माकपा के एक, मनसे के एक, आईएमआईएम के दो) ने इसमें हिस्सा नहीं लिया था। आगामी विधान परिषद चुनाव वाले सभी सीटों पर विधान परिषद सदस्यों का कार्यकाल 24 अप्रैल को समाप्त होने के चलते राज्य विधानमंडल के उच्च सदन के लिये यह द्विवार्षिक चुनाव कराया जा रहा है।

Coronavirus/COVID-19 और Lockdown से जुड़ी अन्य खबरें जानने के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें: शराब पर टैक्स राज्यों के लिए क्यों है अहम? जानें, क्या है इसका अर्थशास्त्र और यूपी से तमिलनाडु तक किसे कितनी कमाईशराब से रोज 500 करोड़ की कमाई, केजरीवाल सरकार ने 70 फीसदी ‘स्पेशल कोरोना फीस’ लगाईलॉकडाउन के बाद मेट्रो और बसों में सफर पर तैयार हुईं गाइडलाइंस, जानें- किन नियमों का करना होगा पालनभारत में कोरोना मरीजों की संख्या 40 हजार के पार, वायरस से बचना है तो इन 5 बातों को बांध लीजिये गांठ…कोरोना से जंग में आयुर्वेद का सहारा, आयुर्वेदिक दवा के ट्रायल को मिली मंजूरी

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Corona Virus Lock Down: रोड पर पुलिस मारती है, इसलिए पटरियों के रास्ते जाते हैं- मजदूरों ने टीवी पर बयां किया दर्द
2 बाबरी मस्जिद विध्वंसः सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त तक बढ़ाई केस की सुनवाई
3 COVID-19: 24 घंटे में कोरोना के देश में 3,390 नए मरीज, 1,273 हुए ठीक
ये पढ़ा क्या?
X