scorecardresearch

BJP-शिवसेना गठबंधन टूटने से हिंदुत्व को नुकसान, NCP व कांग्रेस संग सरकार ज्यादा दिन नहीं चलेगी; गडकरी बोले

Maharashtra Government Formation, Shiv Sena-NCP-Congress: नितिन गडकरी ने कहा कि इस तरह के गठबंधन से न केवल देश को बल्कि हिंदुत्व और महाराष्ट्र को भी नुकसान है।

BJP-शिवसेना गठबंधन टूटने से हिंदुत्व को नुकसान, NCP व कांग्रेस संग सरकार ज्यादा दिन नहीं चलेगी; गडकरी बोले
Maharashtra में शिवसेना का अगला सीएम, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

Maharashtra Government Formation, Shiv Sena-NCP-Congress: महाराष्ट्र में बीजेपी से अलग शिवसेना अब कांग्रेस-एनसीपी संग सरकार बनाने को तैयार हैं। वहीं राज्य में सबसे बड़ा दल होने के बाद भी बीजेपी सरकार बनाने में असमर्थ है। इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बयान दिया है। उन्होंने दावा किया कि अगर एनसीपी-कांग्रेस संग शिवसेना की सरकार बनती है तो वह ज्यादा लंबे समय तक चलेगी। गडकरी ने कहा कि गठबंधन को तोड़ना न केवल देश के लिए बल्कि हिंदुत्व के लिए और महाराष्ट्र के लिए भी नुकसानदेह है।

क्या बोले गडकरी: महाराष्ट्र की राजनीति पर बोलते हुए केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता नितिन गडकरी ने कहा कि बीजेपी और शिवसेना का गठबंधन हिंदुत्व की विचारधारा पर आधारित था और आज भी हमारे बीच वैचारिक मतभेद नहीं हैं। इस तरह के गठबंधन का टूटना न केवल देश के लिए बल्कि हिंदुत्व के लिए और महाराष्ट्र के लिए भी नुकसानदेह है। उन्होंने कहा आगे कि यह (शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस) अवसरवादी गठबंधन है, वे महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार नहीं दे पाएंगे।

Hindi News Today, 22 November 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की अहम खबरों के लिए क्लिक करें

बीजेपी की नहीं बन पाई सरकार: गौरतलब है कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी 105 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी लेकिन शिवसेना से मुख्यमंत्री पद को लेकर विवाद के चलते दोनों के रास्ते अलग हो गए। जिसके बाद शिवसेना ने बीजेपी से अलग एनसीपी और कांग्रेस संग सरकार बनाने का ऐलान कर दिया।

उद्धव ठाकरे बन सकते है सीएम:  शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी सरकार बनाने के लिए एक साथ आ रहे हैं। तीनों पार्टियों के बीच लंबे समय से बातचीत चल रही है। बताया जा रहा है कि गठबंधन सरकार की कमान उद्धव ठाकरे के हाथ में हो सकती है, जबकि कांग्रेस-एनसीपी के पास डिप्टी सीएम का पद रह सकता हैं। हालांकि अभी इसका आधिकारिक ऐलान होना बाकी है।

पढें महाराष्ट्र (Maharashtra News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.