ताज़ा खबर
 

VIDEO: महाराष्ट्र में कांग्रेसी MLA नितेश राणे की गुंडई, इंजीनियर को कीचड़ से नहलाया, फिर पुल पर बांधा

घटना के दौरान आस-पास कुछ लोगों ने वीडियो भी रिकॉर्ड कर लिया, जो कि सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स और टीवी न्यूज चैनलों के जरिए सामने आया है।

Author नई दिल्ली | Updated: July 4, 2019 3:00 PM
मामला मुंबई-गोवा हाईवे पर गुरुवार को नीतेश राणे व उनके समर्थकों ने इंजीनियर के साथ अमानवीयता दिखाई।

महाराष्ट्र में गुरुवार (चार जुलाई, 2019) को कांग्रेस के एक विधायक की गुंडई देखने को मिली। सरेराह उन्होंने एक इंजीनियर पर बाल्टियों से कीचड़ उड़ेलवाया, जबकि घटना के बाद पुल पर उसे बंधवा दिया था। मामला मुंबई-गोवा हाईवे के पास कणकवली का है, जहां विधायक नीतेश नारायण राणे समर्थकों समेत पुल का मुआयना करने पहुंचे थे।

रास्ते में उन्हें कई जगह गड्ढे नजर आए थे, जिस पर वह बुरी तरह भड़क उठे। फौरन उन्होंने इंजीनियर प्रकाश शेडेकर को बुलवाया और उसे लताड़ने लगे। राणे का पारा इतना चढ़ गया कि उन्होंने समर्थकों द्वारा इंजीनियर को कीचड़ से नहलवाया और फिर पुल पर शेडेकर को बंधवा दिया।

घटना के दौरान आस-पास कुछ लोगों ने वीडियो भी रिकॉर्ड कर लिया था, जो कि कुछ ही देर बाद सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म्स और टीवी न्यूज चैनलों के जरिए सामने आया। हालांकि, राणे ने भी अपने फेसबुक अकाउंट से इसकी क्लिप शेयर की और मराठी में कुछ चीजें लिखीं।

वीडियो में साफ नजर आया कि राणे इंजीनियर को बुरी तरह हड़का रहे थे, जबकि उनके कहने पर आस-पास खड़े समर्थक बाल्टियों से उस पर कीचड़ उड़ेल रहे थे। बता दें कि नीतेश, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारायण राणे के बेटे हैं। देखें, घटना के दौरान क्या हुआ थाः 

कांग्रेसी विधायक की गुंडागर्दी से चंद रोज पहले मध्य प्रदेश के इंदौर से बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय की गुंडई भी देखने को मिली थी। उन्होंने एक निगमकर्मी को बल्ले से दौड़ा-दौड़ाकर पीटा था, जिसके बाद उन्हें सरकारी कर्मचारी के साथ बदसलूकी और शासकीय कार्य में बाधा डालने के मामले में जेल तक जाना पड़ा था।

हालांकि, उन्हें बाद में जमानत मिल गई थी। जेल से बाहर आने पर उन्होंने कहा था कि उन्हें अपने किए पर कोई अफसोस नहीं है। अब वह चाहेंगे कि ईश्वर उन्हें दोबारा ‘बल्लेबाजी’ का मौका न दे। वह आगे से महात्मा गांधी के बताए रास्ते पर चलेंगे। आकाश, बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय के पुत्र हैं और उनके मसले पर बुधवार (तीन जुलाई, 2019) को पीएम नरेंद्र मोदी ने साफ कर दिया था कि बेटा किसी का भी हो, इस तरह का सलूक बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Kerala Lottery Today Results: देखें विजेताओं के लॉटरी नंबर
2 RBI का फरमान- कटे-फटे नोट नहीं बदले तो बैंकों को देना होगा भारी जुर्माना 
3 बीजेपी के कार्यकर्ता देशभर में 150 घंटे करेंगे पदयात्रा, देश में महात्मा गांधी की शिक्षा का करेंगे प्रचार
जस्‍ट नाउ
X