जब एक जगह, एक साथ पहुंच गए उद्धव ठाकरे और राजनीतिक विरोधी देवेंद्र फडणवीस, लोगों ने घेरा, फिर…

मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम बाढ़ के मुद्दे पर मुंबई में एक बैठक भी रखेंगे और इसमें विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस को भी बुलाया जाएगा।

कोल्हापुर के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंचे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मुलाकात अचानक से विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस से हो गई। (फोटो – ट्विटर/@Dev_Fadnavis)

भारी बारिश की वजह से महाराष्ट्र के कई इलाकों में बाढ़ आ गई है। शुक्रवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने पहुंचे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मुलाकात अचानक से विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस से हो गई। इस दौरान दोनों ने हाथ जोड़कर एक दूसरे का अभिवादन भी किया। कोल्हापुर सिटी में मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं ने एक दूसरे के साथ बाढ़ राहत कार्यों और प्रभावितों के पुनर्वास को लेकर भी चर्चा की।

पिछले विधानसभा चुनाव के बाद शिवसेना और भाजपा का गठबंधन टूटने के बाद से ही दोनों दलों के नेताओं के बीच जुबानी जंग अक्सर देखने को मिलते रहे हैं। हालांकि शुक्रवार को ऐसा कुछ नहीं हुआ। दोनों दलों के नेताओं ने काफी देर तक मुलाकात की और बाढ़ पर चर्चा भी की। हालांकि मुंबई से कोल्हापुर के लिए उद्धव  ठाकरे और फडणवीस का काफिला अलग अलग निकला था। दोनों नेताओं ने कोल्हापुर पहुंचने के बाद बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और पीड़ितों से मुलाकात भी की। इस दौरान दलों के कार्यकर्ताओं सहित कई लोग इक्कठा हो गए।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात को लेकर सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि मुझे पता था कि वे कोल्हापुर सिटी में ही मौजूद हैं। इसलिए मैंने उन्हें इंतजार करने के भी कहा। साथ ही उन्होंने कहा कि हम दोनों लोग बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए काम कर रहे हैं. इसलिए इसपर कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि हम बाढ़ के मुद्दे पर मुंबई में एक बैठक भी रखेंगे और इसमें विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस को भी बुलाया जाएगा।

वहीं विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने इस मुलाकात को लेकर कहा कि मैंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ बाढ़ की स्थिति पर चर्चा की और क्षेत्र के लोगों के लिए तत्काल राहत पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि हमें एक दीर्घकालिक योजना के बारे में सोचना होगा।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट