ताज़ा खबर
 

भाजपा नेता ने कहा- 24×7 मॉल, रेस्टोरेंट्स, सिनेमाहॉल खुलने से बढ़ेंगे रेप

भाजपा नेता का यह बयान ऐसे समय में आया है जब हाल में राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने बताया कि मुंबई में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर अब पब, मॉल और रेस्टोरेंट 24 घंटे खोले जाएंगे।

प्रतीकात्मक तस्वीर, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

महाराष्ट्र में एक भाजपा नेता ने दावा किया कि अगर मुंबई में 24 घंटे दुकानें, मॉल, रेस्टोरेंट्स और सिनेमाहॉल खुलेंगे तो बलात्कार की घटनाओं में बढ़ोतरी होगी। भाजपा नेता का यह बयान ऐसे समय में आया है जब हाल में राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने बताया कि मुंबई में पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर अब पब, मॉल और रेस्टोरेंट 24 घंटे खोले जाएंगे। फिलहाल मुंबई में इन्हें काला घोड़ा, नरीमन प्वाइंट, बीकेसी और कमला मिल कंपाउंड के इलाके में खोलने का फैसला किया गया है। 26 जनवरी से अब इन जगहों पर पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर 24 घंटे पब मॉल और रेस्टोरेंट्स खुले रहेंगे। हालांकि यह अनिवार्य नहीं होगा।

कैबिनेट मंत्री के इसी फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता राज प्रोहित ने मंगलवार (21 जनवरी, 2020) को कहा कि ‘नाइटलाइफ’ हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है। मीडिया गलियारे की मानें तो भाजपा नेता की यह प्रतिक्रिया नए विवाद को हवा दे सकती है, खासतौर पर भारतीय संस्कृति पर दिया उनका बयान। पार्टी से दरकिनार किए गए 64 वर्षीय नेता ने कहा, ‘मैं पिछले पांच दिनों से मुंबई में नाइटलाइफ के खिलाफ प्रदर्शन कर रहा हूं। यह हमारी संस्कृति का हिस्सा नहीं है। ये युवाओं को गलत रास्ते पर ले जाएगा और इससे बलात्कार के मामलों में भी बढ़ोतरी होगी। महिलाओं के खिलाफ अफराध भी बढ़ेंगे।’ उन्होंने कहा कि इससे कानून व्यवस्था में परेशानी होगी। शहर में पहले ही पुलिसकर्मियों की कमी है।

उल्लेखनीय है कि बीते शुक्रवार को सीएम उद्धव ठाकरे की सरकार में कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि जो सिनेमाहॉल, मॉल, रेस्टोरेंट्स और दुकानें रिहायशी इलाकों में नहीं है वो चौबीस घंटे यानी सप्ताह के सातों दिन खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि अगर अहमदाबाद में ऐसा हो सकता है तो हम ऐसा क्यों नहीं कर सकते। उन्होंने कहा, ‘इससे नौकरियां पैदा होंगी और सरकार को भी फायदा होगा।’

जानना चाहिए कि प्रदेश के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने बीते रविवार को कहा था कि राज्य मंत्रिमंडल मॉल, मल्टीप्लेक्स और दुकानों को सातों दिन चौबीस घंटे खोलने की अनुमति देने के मुद्दे पर 22 जनवरी यानी आज चर्चा करेगा। देशमुख ने कहा, ‘‘22 जनवरी को मंत्रिमंडल की बैठक में इस मुद्दे पर विचार-विमर्श किया जाएगा। हमें देखना होगा कि रात में दुकानों, भोजनालयों और मॉलों को खोले रखने से शहर की पुलिस पर कितना बोझ पड़ेगा। विस्तृत विचार-विमर्श के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा।’

Next Stories
1 JDU नेता ने नीतीश कुमार को लिखी चिट्ठी: भाजपा- आरएसएस गठजोड़ के खिलाफ बोलते हैं तो दिल्ली चुनाव BJP के साथ कैसे लड़ रहे हैं
2 दिल्ली चुनाव में कूदी ‘अनजान आदमी पार्टी’, केजरीवाल के खिलाफ लड़ेंगे ‘चक दे इंडिया’ में शाहरुख का गोल रोकने वाले शैलेंद्र
3 पायलटों से बोले स्पाइसजेट ऑफिसर- फालतू मुद्दे छोड़िए और काम कीजिए, सैलरी नहीं देंगे तो हालत खराब हो जाएगी
ये पढ़ा क्या?
X