ताज़ा खबर
 

2022 का मुंबई नगर निकाय चुनाव अपने दम पर लड़ेगी BJP, 30 वर्षों से BMC पर है शिवसेना का कब्जा

देश के सबसे अमीर नगर निकाय बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) पर पिछले 30 वर्षों से शिवसेना का कब्जा बना हुआ है। बीजेपी इस बार शिवसेना को कड़ी टक्कर देने के मूड में है।

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल, फाइल फोटो (सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

महाराष्ट्र में शिवसेना के संबंध तोड़ लेने के बाद बीजेपी ने रविवार को फैसला किया कि 2022 के मुंबई नगर निकाय चुनाव को वह अपने दम पर लड़ेगा। देश के सबसे अमीर नगर निकाय बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) पर पिछले 30 वर्षों से शिवसेना का कब्जा बना हुआ है। बीजेपी इस बार शिवसेना को कड़ी टक्कर देने के मूड में है। पार्टी ने इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है।

अभी किशोरी पेडनेकर हैं मुंबई के मेयर : बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा, “पार्टी ने तय किया है कि वह आगामी बीएमसी चुनाव अपने दम पर लड़ेगा। हम निश्चित रूप से जीतेंगे। अगले साल 1 जनवरी तक प्रदेश अध्यक्ष समेत पार्टी स्तर की अधिकतर नियुक्तियां बीजेपी पूरी कर लेगी।” इस समय शिवसेना के पार्षद किशोरी पेडनेकर मुंबई के मेयर हैं। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष रावसाहेब दानवे के इस साल जून में केंद्रीय मंत्री बनने के बाद चंद्रकांत पाटिल को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था।

Karnataka Athani, Kagwad, Gokak, Yellapur By-Election Results 2019 LIVE Updates: कर्नाटक उप-चुनाव के नतीजे देखने के लिए यहां क्लिक करें

बीएमसी में बीजेपी के 82 पार्षद हैं : बीजेपी के सूत्रों का कहना है कि अगले साल जनवरी में पाटिल पूरे तीन साल के लिए अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं। 2017 में हुए चुनावों में बीजेपी ने बीएमसी में कुल 227 सीटों में से 82 सीटें जीतकर भारी बढ़त बनाई थी, यह शिवसेना के 86 सीटों के काफी करीब था। बाद में, MNS के छह पार्षद शिव सेना में शामिल हो गए। इससे उनकी संख्या 92 हो गई। कांग्रेस और NCP के क्रमशः 30 और 9 पार्षद हैं।

Hindi News Today, 09 December 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक

पिछले महीने टूट गया था बीजेपी-शिव सेना गंठबंधन : बीजेपी-शिव सेना ने 288 सदस्यीय विधानसभा का चुनाव अक्टूबर में संयुक्त रूप से लड़ा था और 161 सीटें जीती थीं। हालांकि, सीएम के पद के बंटवारे को लेकर नवंबर में गठबंधन टूट गया, जिसके कारण शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी से हाथ मिलाकर महाराष्ट्र विकास अघाडी सरकार बनाई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बिहार के डाकघरों में मिलेगा गंगाजल, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले- 261 पोस्टऑफिस में मिलेगी यह सुविधा
2 पहले एनसीपी को देना चाहते थे, अब गृह विभाग खुद रखना चाहते हैं सीएम उद्धव ठाकरे, कांग्रेस में भी युवाओं और बुर्जुगों में खींचतान!
3 Kerala State Lottery Today Results announced LIVE: परिणाम घोषित, यहां देखें लखपति विजेताओं की सूची
ये पढ़ा क्या?
X