ताज़ा खबर
 

Maggi Noodles Row: दिल्ली में मैगी पर 15 दिनों का BAN, स्टॉक वापस लेने के आदेश

Maggi Noodles Ban: दिल्ली में खराब गुणवत्ता के मद्देनजर खाद्य सुरक्षा विभाग ने इसकी बिक्री पर रोक लगा दी है। सूत्रों की मानें तो अब मैगी नूडल्स की सभी केंद्रीय भंडारों पर बिक्री को लेकर रोक लगा दी गई है।

वापस लौटने के वादे के साथ नेस्ले ने मैगी को बाजार से हटाने का फैसला किया

दिल्ली में खराब गुणवत्ता के मद्देनजर मैगी पर 15 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेन्द्र जैन और नेस्ले इंडिया के अधिकारियों  के बीच चली बैठक और नेस्ले की तरफ से सफाई सुनने के बाद सरकार ने यह फैसला किया है। वहीं दूसरी ओर खाद्य सुरक्षा विभाग ने इसकी बिक्री पर रोक लगा दी है।

साथ ही बिग बाजार ने भी अपने सभी आउटलेट्स पर मैगी नहीं बेचने का फैसला किया है। बिग बाजार के अलावा ईजीडे और कुछ अन्य आउटलेट्स ने अपने स्टोर पर मैगी को नहीं बेचने का फैसला किया है। जबकि इस मामले में फंसे  बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन ने कहा कि मुझे अभी तक कोई नोटिस नहीं मिला है।

सूबह से ही इस बात की संभावना जताई जा रही थी कि  राजधानी दिल्ली में मैगी पर पाबंदी लगाने को लेकर आज बड़ा फैसला लिया जा सकता है। दिल्ली सरकार नेस्ले के खिलाफ केस भी दर्ज करा सकती है।

दिल्ली सरकार के खाद्य विभाग ने पिछले हफ्ते मैगी के विभिन्न नमूने लिए थे। प्रयोगशाला जांच में 13 में से 10 नमूने असुरक्षित पाए गए। पांच मसाला नमूनों में मोनोसोडियम ग्लूटामेट पाया गया।

इसकी मात्रा का जिक्र उनमें नहीं था। दिल्ली सरकार ने मैगी कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज करने का फैसला करते हुए नेस्ले को नोटिस जारी किया है।

केरल सरकार ने एक आदेश जारी कर राज्य में उसकी खुदरा दुकानों से मैगी नूडल्स के वितरण को तब तक रोक देने के लिए कहा है जब तक कि सुरक्षा मुद्दे पर स्थिति साफ न हो जाए। केरल राज्य नागरिक आपूर्ति निगम, जिसे सप्लाइको के नाम से जाना जाता है, के राज्य भर में करीब 1400 स्टोर हैं।

Maggi पर आफत: केरल के बाद दिल्ली में भी BAN की तैयारी 

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने चंडीगढ़ में पत्रकारों को बताया कि हमने मैगी नूडल्स में खाद्य सुरक्षा मानकों की कथित चूक की खबरों का संज्ञान लिया है। हमने अधिकारियों को राज्य भर से इन नूडल्स के नमूने लेने और प्रयोगशाला जांच को कहा है।

कर्नाटक सरकार ने भी अधिकारियों को राज्य भर से मैगी नमूने लेकर प्रयोगशाला जांच के लिए कहा है। पश्चिम बंगाल सरकार ने इस पर विचार-विमर्श के लिए बुधवार को बैठक बुलाई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App