scorecardresearch

मप्रः वैक्सीन से बचने के लिए पेड़ पर जा चढ़ी युवती, जानें कैसे हेल्थ वर्कर्स ने नीचे उतारने के लिए की मशक्कत

टीकाकरण करने वाली टीम जिले के मनकारी गांव में पहुंची थी। इसकी जानकारी मिलते ही युवती अपने घर से भाग गई और डॉक्टर से छिपने के लिए एक पेड़ पर चढ़ गई। तब, वैक्सीन लगाने वाले हेल्थवर्कर युवती का पीछा करने लगे।

madhya pradesh
वैक्सीन के डर से पेड़ पर चढ़ी युवती (फोटो- @Anurag_Dwary)

कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए सभी राज्यों में टीकाकरण अभियान जोरों पर चल रहा है। सरकार इसके लिए तरह-तरह के अभियान चला रही है। खासकर, ग्रामीण इलाकों में मेडिकल कार्यकर्ता घर-घर जाकर वैक्सीन की डोज लगाने का काम कर रहे हैं। वहीं, कई ऐसे मामले भी आए हैं जहां लोग वैक्सीन की डोज लेने से कतराते दिखाई दिए हैं। मध्य प्रदेश के छत्तरपुर जिले में ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां एक युवती वैक्सीन के डर से पेड़ पर चढ़ जाती है। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

टीकाकरण करने वाली टीम जिले के मनकारी गांव में पहुंची थी। इसकी जानकारी मिलते ही युवती अपने घर से भाग गई और डॉक्टर से छिपने के लिए एक पेड़ पर चढ़ गई। तब, वैक्सीन लगाने वाले हेल्थवर्कर युवती का पीछा करने लगे। वायरल हो रहे वीडियो में हेल्थवर्कर पेड़ के नीचे खड़े होकर उसके नीचे उतरने का इंतजार करते हुए दिखाई देती है। वह बार-बार युवती को पेड़ से नीचे उतरने को कह रही है।

वहां मौजूद अन्य ग्रामीण भी युवती को नीचे उतरने के लिए कह रहे हैं। बहुत कोशिशों के बाद युवती पेड़ से नीचे उतरती है और उसे वैक्सीन की डोज दी जाती है। वैक्सीन के डर से युवती के पेड़ पर चढ़ जाने का वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। लोग इस पर तरह-तरह के कमेंट कर रहे हैं।

कोरोना के खिलाफ जंग में पूरे देश में अब तक लगभग 156 करोड़ से अधिक कोरोना टीके लगाए जा चुके हैं। वहीं, मध्य प्रदेश में 10 करोड़ से अधिक कोविड टीके लगाए जा चुके हैं। जानकारी के मुताबिक, 5 करोड़ 63 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है और 5 करोड़ 8 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज दी जा चुकी है। इसके अलावा, प्रीकॉशन डोज की बात करें, तो 2 लाख 68 हजार से अधिक लोगों इसकी डोज लगाई जा चुकी है।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट