ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: सरकारी घरों से हटाई जाएं पीएम मोदी, सीएम शिवराज की तस्‍वीरें, हाईकोर्ट का आदेश

कोर्ट ने यह काम करने के लिए 20 दिसंबर तक की मोहलत दी है। कोर्ट ने इसी के साथ साफ कर दिया कि घरों में किसी और राजनेता के फोटो भी नहीं लगने चाहिए।

Narendra Modi, PM, Narendra Modi Photos, Modi Photo on Tiles, Shivraj Singh Chauhan, CM, MP, Pictures, Photos, Removal, Remove, Tiles, Government Houses, Pradhan Mantri Awas Yojana, PMAY, Madhya Pradesh High Court, Gwalior Bench, Order, PIL, Question, Madhya Pradesh, MP News, State News, National News, Hindi News, नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री, भारत, शिवराज सिंह चौहान, मुख्यमंत्री, मध्य प्रदेश, फोटो, तस्वीरें, प्रधानमंत्री आवास योजना, सरकार मकान, टाइल्स, हटाओ, हटाएं, ग्वालियर बेंच, मध्य प्रदेश हाईकोर्ट, मध्य प्रदेश, राज्य समाचार, राष्ट्र समाचार, हिंदी समाचारप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फोटोः पीटीआई)

मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के अंतर्गत बने घरों में लगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की तस्वीरें हटाई जाएंगी। यह कार्रवाई हाईकोर्ट की ग्वालियर बेंच के आदेश पर होगी। बुधवार (19 सितंबर) को कोर्ट ने कहा कि इन मकानों के अंदर टाइल्स पर पीएम और सीएम की तस्वीरें हटा ली जाएं। कोर्ट ने यह काम करने के लिए 20 दिसंबर तक की मोहलत दी है। कोर्ट ने इसी के साथ साफ किया है कि घरों में किसी और राजनेता के फोटो भी नहीं लगने चाहिए।

केंद्र सरकार ने इससे पहले कोर्ट से कहा था कि पीएम और सीएम के फोटो वाले टाइल्स हटा लिए जाएंगे। मंगलवार (18 सितंबर) को इसके जवाब में राज्य सरकार ने कहा कि तस्वीरें हटवाने के लिए आदेश जारी किया गया है। यह भी बताया गया कि टाइल्स पर अब सिर्फ पीएमएवाई का लोगो ही नजर आएगा।

नरेंद्र मोदी के शासनकाल में तिगुना हुआ सरकारी बैंकों का ‘बैड लोन’, RBI का खुलासा

आपको बता दें कि जुलाई में इस मामले को लेकर एक जनहित याचिका (पीआईएल) दाखिल की गई थी। याचिकाकर्ता ने उसके जरिए शिकायत की थी कि आखिर पीएम मोदी और सीएम शिवराज की तस्वीरें इन सरकारी मकानों में क्यों इस्तेमाल की गईं? याचिकाकर्ता के वकील ने इसके पीछे तर्क देते हुए कहा था कि ये घर जनता के रुपयों से बनवाए गए हैं, न कि चुनावी फायदों को भुनाने के लिए इनका निर्माण कराया गया है।

आपको बता दें कि इस साल के अंत तक चार राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। इन राज्यों में राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिजोरम के साथ मध्य प्रदेश का नाम भी है। ऐसे में हाईकोर्ट की तरफ से आया यह आदेश काफी अहम माना जा रहा है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 तीन तलाक अध्‍यादेश: पांच राज्‍यों के चुनाव में फायदा उठा सकती है बीजेपी, ये रहे पांच संकेत
2 अब इंस्‍टैंट तीन तलाक पर होगी जेल, राष्‍ट्रपति ने अध्‍यादेश को दी मंजूरी
3 मोहन भागवत ने भगवान राम को बताया ‘इमाम-ए-हिंद’, कहा- अब तक बन जाना चाहिए था मंदिर
राशिफल
X