scorecardresearch

हिंदू महिला के साथ यात्रा कर रहा था मुस्लिम शख्स, बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने ट्रेन से नीचे उतारा, लगाया ‘लव जिहाद’ का आरोप

मध्य प्रदेश(Madhya Pradesh) के उज्जैन(Ujjain) में हुई इस घटना को लेकर जीआरपी पुलिस अधीक्षक निवेदिता गुप्ता ने कहा कि युवक और महिला पारिवारिक मित्र है। दोनों एक-दूसरे को कई सालों से जानते हैं।

Love jihad, Madhya Pradesh news
प्रतीकात्मक तस्वीर।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में बजरंग दल के सदस्यों ने एक मुस्लिम युवक और एक विवाहित हिंदू महिला को अजमेर जा रही ट्रेन से नीचे उतार दिया। बता दें कि दोनों एक साथ यात्रा कर रहे थे। बजरंग दल का आरोप है कि मुस्लिम युवक महिला को बहला फुसलाकर उसे अजमेर ले जा रहा था। संगठन ने युवक पर लव जिहाद का आरोप लगाया।

पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया: बजरंग दल ने इंदौर के रहने वाले महिला और युवक को उज्जैन के रेलवे पुलिस स्टेशन को सौंप दिया। जिसके बाद राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने दोनों के पारिवारिक मित्रों से पूछताछ की और उनके माता-पिता के आने तक उन्हें थाने में बिठाये रखा। हालांकि बयान दर्ज होने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया। जीआरपी के मुताबिक इस मामले में किसी के द्वारा शिकायत ना मिलने पर बजरंग दल के सदस्यों के खिलाफ कोई शिकायत नहीं दर्ज की गई।

मालूम हो कि यह घटना 14 जनवरी को हुई थी। व्यक्ति की पहचान आसिफ शेख के रूप में हुई है। वह एक इलेक्ट्रॉनिक दुकान का मालिक है। वहीं महिला एक निजी स्कूल में शिक्षिका है। सोशल मीडिया पर इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। जिसमें बजरंग दल के कार्यकर्ता के रूप में अपनी पहचान बताने वाले तीन लोग आसिफ शेख को ट्रेन के कोच से बाहर खींचते हुए दिख रहे हैं। इस दौरान महिला भी उनके पीछे चलती दिख रही है।

दोनों पारिवारिक मित्र: जीआरपी पुलिस अधीक्षक निवेदिता गुप्ता ने जानकारी दी कि शेख और महिला पारिवारिक मित्र है। दोनों एक-दूसरे को कई सालों से जानते हैं। गुप्ता ने कहा, “बजरंग दल के लोगों द्वारा उन्हें थाने में लाए जाने के बाद, जिन्होंने उनपर ‘लव जिहाद’ का आरोप लगाया। हमने उनके बयान दर्ज किए। हालांकि दोनों बालिग हैं इसलिए उन्हें जाने दिया गया।”

उन्होंने यह भी बताया कि बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के खिलाफ भी कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है। बता दें कि वीडियो में एक शख्स शेख को पीटते भी दिख रहा है। वहीं जीआरपी पुलिस अधीक्षक का कहना है कि “हमें इस बात की जानकारी नहीं है कि थाने लाते समय उस व्यक्ति के साथ किसी भी तरह से दुर्व्यवहार किया गया या नहीं। और न ही इसकी जानकारी आसिफ शेख और महिला ने दी।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट