ताज़ा खबर
 

बछड़े की मौत का प्रायश्चित करने के लिए पंचायत ने सुनाया नाबालिग बेटी की शादी का फरमान

शादी की तैयारियां भी हो गई थी लेकिन पुलिस और स्थीन प्रशासन की दखलअंदाजी के बाद शादी रोक दी गई।घटना विदिशा जिले के पथरिया थाने की है।

Author Translated By Naveen Rai नई दिल्ली | Updated: February 16, 2020 9:06 PM
मध्य प्रदेश:शख्स के हाथों गलती से गाय के एक बछड़े की हत्या हो गई थी। (प्रतीकात्मक तस्वीर-PTI)

मध्य प्रदेश में एक शख्स के हाथों गलती से गाय के बछड़े की मौत हो जाने के बाद गांव की पंचायत ने अजीबोगरीब फरमान सुनाया। पंचाया ने शख्स की नाबालिग बेटी की शादी का फैसला सुनाया। शादी की तैयारियां भी हो गई थी लेकिन पुलिस और स्थीन प्रशासन की दखलअंदाजी के बाद शादी रोक दी गई।घटना विदिशा जिले के पथरिया थाने की है।

पंचायत का कहना था कि इस घटना के पाप से बचने के लिए कन्यादान एक मात्र रास्ता था। इस वजह से शादी का फैसला सुनाया गया। हमारे सहयोगी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान पथरिया पुलिस स्टेशन के इंचार्ज बीडी सिंह ने बताया कि वह शख्स बाइक से कहीं जा रहा था इस दौरान दुर्घटना हुई और गाय के बछड़े की मौत हो गई। उस शख्स ने गंगा में डुबकी लगाने और भोज का आयोजन करने के लिए तैयार था लेकिन पंचायत ने नाबालिग बेटी की शादी का फरमान सुनाया।

महिला और बाल विकास विभाग और पुलिस की एक टीम शुक्रवार को घटना की जानकारी के बाद उस गांव में पहुंची। इस दौरान परिवार ने प्रशासनिक कार्रवाई का विरोध किया और यह स्वीकार करने से इनकार कर दिया कि लड़की नाबालिग थी। सिंह ने कहा कि आधार कार्ड देखने पर पता चला कि लड़की चौदह साल की भी नहीं थी। इस घटना को लेकर कोई मामला दर्ज नहीं किया गया।

Next Stories
1 MNS को झटका, जेपी नड्डा बोले महाराष्ट्र में नहीं करेंगे किसी से गठबंधन, लड़ाई होगी बीजेपी बनाम ऑल; लोग बोले- 2024 में हो जाएंगे साफ
2 हेड कॉन्स्टेबल ने बहस होने पर पत्नी को मार दी गोली, ससुराल के तीन लोगों को भी AK-47 राइफल से भूना, फिर थाने जा किया सरेंडर
3 संसद सत्र छोड़ दिल्ली में रैली कर रहे थे अमित शाह, जनता ने बीजेपी के ‘राम’ को छोड़ ‘हनुमान’ को जिता दिया, शिवसेना का तंज
ये पढ़ा क्या?
X