ताज़ा खबर
 

पूर्व सीएम पिता ने मंत्री बेटे को लिखी चिट्ठी- मंदिरों के नजदीक बूचड़खाने हटवाओ, बीजेपी के शासन में हिन्दू आस्था को पहुंची ठेस

बीजेपी के शासन के दौरान भोपाल नगर निगम ने आदमपुर छावनी के पास कंकाली मंदिर के नजदीक बूचड़खाना बनवाने का फैसला लिया गया था।

Author भोपाल | Updated: September 21, 2019 8:12 PM
पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह और नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह। फोटो: PTI/Facebook

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने मंत्री बेटे को चिट्ठी लिखकर मंदिरों के नजदीक बूचड़खाने हटवाने की मांग की है। साथ ही उन्होंने इस चिट्ठी में यह भी का कि बीजेपी के शासन के दौरान इस वजह से हिंदूओं की आस्था को ठेस पहुंची है। दिग्विजय ने मांग की है कि इसके निर्माण पर रोक लगाई जाए और इसे कही और शिफ्ट किया जाए।

दरअसल बीजेपी के शासन के दौरान भोपाल नगर निगम ने आदमपुर छावनी के पास कंकाली मंदिर के नजदीक बूचड़खाना बनवाने का फैसला लिया गया था। यह पहला सुभाष नगर में बनाया जाना था लेकिन बाद में फैसला हुआ कि बूचड़खाना कंकाली मंदिर के नजदीक बनाया जाएगा। सीएम पिता ने नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह को इसे हटाने की मांग की है।

सिंह ने कहा है कि नवरात्र के दौरान कई श्रद्धालू मंदिर में पूजा-अर्चना करने आते हैं साथ ही मंदिर की रोड पर राम मंदिर और इस्कॉन मंदिर भी है। बीजेपी की सरकार के दौरान लिए गए इस फैसले का कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध भी किया था। इस विरोध के बावजूद तत्कालीन सीएम शिवराज सिंह चौहान और नगर निगम ने लोगों की इच्छा के खिलाफ जाकर डीपीआर को मंजूरी दी।

बता दें कि दिग्विजय ने यह मांग ऐसे समय पर की है जब उन्होंने हाल ही में बीजेपी नेताओं पर लगे रेप के आरोपों की ओर इशारा करते हुए सनातन धर्म को बदनाम करने का आरोप लगाया है। दिग्विजय ने कहा है कि, ‘भगवा वस्त्र पहनकर लोग चूरन बेच रहे हैं। भगवा वस्त्र पहनकर बलात्कार कर रहे। मंदिरों में बलात्कार हो रहे हैं। क्या यही हमारा धर्म है? हमारे सनातन धर्म को जिन लोगों ने बदनाम किया है, उन्हें ईश्वर भी माफ नहीं करेगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सर्वे: हरियाणा में दो तिहाई से ज्यादा सीटों पर बीजेपी की बंपर जीत के आसार, पर 52 फीसदी लोगों ने मनोहर लाल खट्टर को बतौर CM नकारा
2 सर्वे: महाराष्ट्र में फिर बन सकती है बीजेपी-शिवसेना की सरकार, कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को 28 सीटों के नुकसान के आसार
3 BJP के दो बड़े नेताओं के बीच भिड़ंत! पत्नी के लिए टिकट चाहते हैं मोदी सरकार के मंत्री, बेटे के लिए जुटे पूर्व सांसद