ताज़ा खबर
 

Madhya Pradesh Government Crisis: कमलनाथ सरकार के कहने पर काम करने वाले अधिकारियों को शिवराज की चेतावनी- एक-एक की सूची बना रहा हूं, हिसाब लिया जाएगा

Madhya Pradesh Government Crisis News: कांग्रेस के बागी विधायकों ने बेंगलुरु में प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें बागी विधायक राजवर्धन सिंह ने कहा कि हमें किसी ने कैदी नहीं बनाया है और हम सीएम कमलनाथ की कार्यशैली से खुश नहीं हैं।

Author भोपाल | Updated: March 17, 2020 11:29 PM
राज्यपाल से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते मुख्यमंत्री कमलनाथ। (फोटोः एएनआई)

Madhya Pradesh Government Floor Test: भाजपा नेता शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि कमलनाथ सरकार को पता है कि इनके पास अब बहुमत नहीं है परन्तु लगातार संवैधानिक पदों पर नियुक्ति की जा रही हैं। कुछ अधिकारी इनके कहने पर काम कर रहे हैं,मैं आज उनको चेतावनी देना चाहता हूं एक-एक की सूची बना रहा हूं, उनसे निपटा जाएगा, एक-एक का हिसाब किया जाएगा। इससे पहले सीएम कमलनाथ ने राज्यपाल को चिट्टी लिखी है। इस चिट्ठी में सीएम ने लिखा है कि 16 विधायकों को, जिन्हें बंधक बनाकर रखा गया है, पहले उन्हें आजाद किया जाए और उन्हें 5-7 दिनों तक उनके घरों में बिना किसी डर रहने दिया जाए। ताकि वह बिना किसी दबाव के फैसला ले सकें।

सीएम ने चिट्ठी में ये भी लिखा कि आपका मानना है कि मुझे मध्य प्रदेश विधानसभा में मंगलवार को फ्लोर टेस्ट कराना चाहिए, वरना यह माना जाएगा कि मेरे पास बहुमत नहीं है, यह पूरी तरह से असंवैधानिक है। मध्य प्रदेश मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए विधानसभा स्पीकर, राज्यपाल ऑफिस को नोटिस जारी किया है। जिसके बाद बुधवार सुबह साढ़े दस बजे सुप्रीम कोर्ट इस मामले पर सुनवाई होगी। शिवराज सिंह चौहान की तरफ से मुकुल रोहतगी ने पैरवी की।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 योगी सरकार के नए अध्यादेश से गठित ट्रिब्यूनल के फैसले को नहीं दे सकते चुनौती, हर हाल में भरना होगा जुर्माना, हड़ताली भी आएंगे जद में
2 कोरोना का दहशत: भारत-नेपाल सीमा सील; चार विदेशी लौटाए गए
3 गांव के बाहर ‘द ग्रेट चमार्स’ बोर्ड से चर्चा में आए थे भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद
ये पढ़ा क्या?
X