ताज़ा खबर
 

शिवराज सरकार में जिस बंगले से बेदखल हुए थे दिग्विजय सिंह उसे कमलनाथ ने वापस दिया

हाईकोर्ट के आदेश के बाद मध्य प्रदेश के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का आदेशी जारी हुआ। इसमें दिग्विजय सिंह, उमा भारती, कैलाश जोशी और बाबूलाल गौर शामिल थे। लेकिन, बाद में राज्य सरकार ने दिग्विजय सिंह को छोड़ सभी पूर्व सीएम को बंगले अलॉट कर दिए।

Author December 19, 2018 4:48 PM
शिवराज सरकार में छिना बंगला कमलनाथ ने दिग्विजय सिंह को दोबारा दिया. (फोटो सोर्स: पीटीआई)

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही दिग्विजय सिंह को सरकारी बंगला दिया गया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को श्यामला हिल्स स्थित उनका पुराना बंगला फिर से अलॉट कर दिया है। इससे पहले शिवराज सिंह चौहान के शासनकाल में कोर्ट के आदेश के बाद उन्हें इसे खाली करना पड़ा था। मंगलवार शाम को इस संबंध में बाकायदा स्टेट डिपार्टमेंट ने एक ऑर्डर जारी किया। राज्य सरकार के मुताबिक दिग्विजय सिंह राज्यसभा सांसद हैं और वह इस बंगले के हकदार हैं।

गौरतलब है कि हाईकोर्ट के आदेश के बाद मध्य प्रदेश के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करने का आदेशी जारी हुआ। इसमें दिग्विजय सिंह, उमा भारती, कैलाश जोशी और बाबूलाल गौर शामिल थे। हालांकि, इसके बाद शिवराज सरकार ने बीजेपी के सभी मुख्यमंत्रियों को दोबारा बंगला अलॉट तो किया, लेकिन दिग्विजय सिंह को इससे महरूम कर दिया। उस दौरान भी कमलनाथ ने शिवराज सरकार के इस फैसले की कड़ी आलोचना की थी। कमलनाथ ने कहा था कि वह सभी मुख्यमंत्रियों को बंगला आवंटित करने के पक्ष में हैं।

वहीं, इस दौरान शिवराज सिंह चौहान को सुषमा स्वराज का बंगला कमलनाथ की सरकार ने अलॉट किया है। विदिशा से सांसद और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का सरकारी बंगला सी-7 प्रोफेसर कॉलोनी अब शिवराज सिंह का नया पता होगा। जानकारी के मुताबिक कमलनाथ के पास बंगला आवंटित करने के लिए कई नामों की लंबी फेहरिस्त है। लेकिन, अभी तक ज्योतिरादित्य सिंधिया और सांसद विवेक तन्खा को बंगला आवंटित नहीं किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X