ताज़ा खबर
 

रात को सो रही महिला ने पानी नहीं पिलाया तो झोपड़ी में घुस कर किया गैंगरेप, गुप्तांग में डाल दी रॉड

मध्यप्रदेश के सीधी जिले के अमरिया थाना क्षेत्र की रहने वाली एक महिला के साथ चार आरोपियों ने पहले गैंगरेप किया फिर दरिंदगी की सारी सीमा लांघते हुए उसके गुप्तांग में रॉड डाल दिया। महिला को रीवा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहाँ उसकी हालत नाज़ुक बनी हुई है।

madhya pradesh, MP police, crimE, kidnap, Rape, gangrapeप्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो क्रेडिट – freepik)

रेप के मामले में फांसी की सजा होने के बावजूद मध्यप्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध नहीं थम रहे हैं। मध्यप्रदेश के सीधी जिले में एक विधवा के साथ चार अपराधियों ने ना सिर्फ बलात्कार किया बल्कि उनके गुप्तांग में रॉड से हमला भी किया। वहीँ मध्यप्रदेश के ही खंडवा जिले में एक 13 साल की बच्ची के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है। आरोपी ने 13 साल की मासूम का बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी।

मध्यप्रदेश के सीधी जिले के अमरिया थाना क्षेत्र की रहने वाली एक महिला के साथ चार आरोपियों ने पहले गैंगरेप किया फिर दरिंदगी की सारी सीमा लांघते हुए उसके गुप्तांग में रॉड डाल दिया। महिला को रीवा के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहाँ उसकी हालत नाज़ुक बनी हुई है। सीधी पुलिस के अनुसार पीड़िता के पति का चार पहले ही निधन हो चुका था। वो अपने दो बच्चे के साथ गाँव में रहती है और सड़क किनारे चाय दुकान चला कर अपना गुजर बसर करती है। पुलिस के अनुसार चारों दरिंदों ने पहले महिला से पीने के लिए पानी माँगा। महिला के द्वारा पानी ना दिए जाने पर आरोपियों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। सीधी पुलिस ने विधवा के साथ हुए जघन्य अपराध के मामले में चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

खंडवा में भी नाबालिग की रेप के बाद हत्या 

ऐसी ही दूसरी जघन्य घटना मध्यप्रदेश के खंडवा जिले की है जहाँ आरोपी ने 13 साल की बच्ची का पहले बलात्कार किया फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार यह घटना धनगांव क्षेत्र के जमनिया गाँव की है। जहाँ गाँव के ही एक दुकान पर नौंवी कक्षा में पढने वाली एक छात्रा बिस्कुट खरीदने गयी थी। नाबालिग को अकेला देख कर 45 वर्षीय आरोपी किराना व्यापारी दिलावर राजपूत ने उसके साथ पहले ज़्यादती की। फिर मामले की भनक किसी को ना लग पाए इसके लिए उसकी गला दबाकर हत्या भी कर दी। 

खंडवा पुलिस के द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार सोमवार को दोपहर करीब 12 बजे आरोपी दुकानदार अपनी पत्नी के साथ मिलकर शव को बोरे में भर कर ठिकाने लगाने की कोशिश कर रहा था। इस दौरान जब बोरे पर पड़ोसियों की नजर पड़ी तो आरोपी अपनी पत्नी के साथ भाग खड़ा हुआ। हालाँकि कुछ देर बाद ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया लेकिन उसकी पत्नी अभी भी फरार है।  

Next Stories
1 कोरोना वैक्सीन की पहली खेप ले पुणे से दिल्ली पहुंचा विमान, सीरम इंस्टिट्यूट ने 34 बॉक्स में भेजी ‘कोविड की काट’
2 ‘गौ-विज्ञान परीक्षा’ से पहले ‘रेफरेंस मटीरियल’ वायरल! Rashtriya Kamdhenu Aayog की साइट से डॉक्यूमेंट गायब
3 कृषि बिल पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी को केंद्र ने बताया कठोर, जज ने कहा- इससे ज़्यादा अहितकर सच हम कह नहीं सकते थे
ये पढ़ा क्या?
X