ताज़ा खबर
 

दिग्विजय को ‘ब्लैकमेलर’ बताने वाले मंत्री के साथ कमलनाथ ने बंद दरवाजे के पीछे की मीटिंग!

सिंघार मीडिया से बातचीत में खुलेआम दिग्विजय सिंह को 'ब्लैकमेलर' और उनकी बयानबाजी को पार्टी के खिलाफ करार दे चुके हैं।

दिग्विजय सि, सीएम कमलनाथ और वन मंत्री उमंग सिंघार। फोटो: इंडियन एक्सप्रेस/Twitter/Umang Singhar/जनसत्ता

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह को ‘ब्लैकमेलर’ कहने वाले और उनके खिलाफ लगातार बयानबाजी कर रहे वन मंत्री उमंग सिंघार से मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बंद कमरे में मीटिंग की। इस दौरान कमलनाथ ने कहा कि दिग्विजय के खिलाफ बयान देने से पहले सिंघार को उनसे बात करनी चाहिए थी। इस मीटिंग में एमएलए हीरालाल अलावा और राज्यवर्धन सिंह दत्तिगांव भी मौजूद रहे। बता दें कि सिंघार मीडिया से बातचीत में खुलेआम दिग्विजय सिंह को ‘ब्लैकमेलर’ और उनकी बयानबाजी को पार्टी के खिलाफ करार दे चुके हैं।

मीटिंग के 12 घंटे बाद मीडिया के सामने आए वन मंत्री ने कहा ‘मैंने अपनी बात पार्टी फोरम में रख दी है। इस मुद्दे पर अब मुझे आगे कोई भी टिप्पणी नहीं करनी। मेरे और सीएम के बीच जो भी बातें हुई वह निजी हैं और इसे सार्वजनिक मंच से साझा नहीं किया जा सकता। और रही बात पार्टी में चल रही मतभेदों की तो मैं साफ कर देना चाहता हूं कि पार्टी में किसी तरह का मतभेद नहीं है और न ही किसी तरह का संवैधानिक संकट है।’ हालांकि इस दौरान दिग्विजय के खिलाफ दिए बयान के सवालों पर उन्होंने चुप्पी साध ली।

मंत्री ने दिग्विजय को ‘ब्लैकमेलर’ तो कहा ही साथ में यह भी कहा कि वह अक्सर ऐसे बयान देते हैं जिससे कांग्रेस को नुकसान झेलना पड़ता है। वह हिंदू आतंकवाद पर बयानबाजी क्यों करते हैं। बता दें कि इस मीटिंग में धार में पदस्थ आबकारी विभाग के अधिकारी संजीव दुबे के एक वायरल ऑडियो पर भी चर्चा की गई।

ऑडियो में अधिकारी कांग्रेस मंत्रियों और विधायकों को शराब ठेकेदारों से पैसे देने की बात कर रहे हैं। ऑडियो से सामने आया है कि मंत्रियों को कथित तौर पर शराब कारोबारियों से पैसे मिलते थे। दुबे इसमें एक व्हिसलब्लोअर से फोन पर बातचीत कर रहे हैं। ऑडियो के वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अधिकारी पर सख्त एक्शन लेते हुए उन्हें हटा दिया है।

Next Stories
1 J&K: 13 साल का पत्थरबाज ‘छोटा डॉन’ शिकंजे में, इन हरकतों की वजह से घाटी में हो चला था कुख्यात!
2 उत्तर प्रदेश में महंगी हुई बिजली, योगी सरकार के मंत्री श्रीकांत शर्मा बोले- यह सपा और बसपा का पाप
3 अर्थव्यवस्था पर शिवसेना ने दी मोदी सरकार को नसीहत- गंभीरता से लें मनमोहन की सलाह
ये पढ़ा क्या?
X