ताज़ा खबर
 

सात रुपये महंगा हुआ गैस स‍िलेंडर, मार्च तक खत्‍म कर दी जाएगी पूरी सब्‍स‍िडी

एक अगस्त को सिलेंडर की कीमत में 2.31 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाई गई थी।
साइकिल पर घरेलू रसोई गैस सिलेंडर लेकर जाता एक वेंडर। (फाइल फोटो)

सब्सिडी पर मिलने वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 7 रुपये बढ़ा दी गई है। सिलेंडर के दाम हर महीने बढ़ाए जाएंगे। सरकार ने इस वित्त वर्ष में पूरी सब्सिडी हटाने का फैसला किया है। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के मुताबिक अब दिल्ली में 14.2 किलो का रसोई गैस का सिलेंडर 487.18 रुपये का मिलेगा। पहले इसकी कीमत 479.77 रुपये थी। ऑयल मिनिस्टर धर्मेंद्र प्रधान ने 31 जुलाई को लोकसभा में कहा था कि सरकार ने सरकारी तेल कंपनियों को सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत 4 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाने के लिए कहा है, ताकि मार्च तक इसे सब्सिडी फ्री कर दिया जाए। एक अगस्त को सिलेंडर की कीमत 2.31 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ाई गई थी। सूत्रों के मुताबिक तेल कंपनियों ने पहले बढ़ाई गई कम कीमत को कवर करने के लिए इस बार सिलेंडर की कीमत में ज्यादा वृद्धि की है।

पिछले साल जुलाई से 2 रुपये प्रति सिलेंडर की मासिक वृद्धि की नीति लागू होने के बाद से एलपीजी के सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत में 68 रुपये तक की बढ़ोतरी हुई है। जून, 2016 में 14.2 किलो का एलपीजी सिलेंडर 419.18 रुपये था। सरकार ने पहले इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) से सब्सिडी वाले घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत (वैट को छोड़कर) हर महीने 2 रुपये तक बढ़ाने के लिए कहा था। अब 2 के बजाय 4 रुपये की बढ़ोतरी करने के लिए कहा गया है, ताकि सब्सिडी को शून्य किया जा सके।

एक साल में एक घर में सब्सिडी वाले 12 सिलेंडर ही लिए जा सकते हैं। अगर एक साल में 12 से ज्यादा सिलेंडर लेने है तो उसे बाजार की कीमत पर ही खरीदा जा सकता है। बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस के सिलेंडर की कीमत में 73.5 रुपये की बढ़ोतरी कर दी गई है। इसकी कीमत 597.50 रुपये है। पिछली बार इसकी कीमत में 40 रुपये की कटौती की गई थी। इसके साथ-साथ तेल कंपनियों ने बढ़ती वैश्विक दरों के चलते एविएशन टरबाइन ईंधन (एटीएफ) की कीमतों में भी 4 फीसदी तक की बढ़ोतरी कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.