ताज़ा खबर
 

चुनने की आजादी के खिलाफ है ‘लव जिहाद’ से जुड़ा कानून- बोले पूर्व SC जज लोकुर

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकुर ने इस कानून का विरोध किया है। पूर्व न्यायाधीश ने कहा कि लव जिहाद कानून चुनने की स्‍वतंत्रता के खिलाफ है। लोकुर ने कहा कि यह अध्‍यादेश चुनने की आजादी, गरिमा और मानवाधिकारों की अनदेखी करता है।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: December 1, 2020 10:28 AM
Uttar Pradesh, Love Jihad, Law, Former Judge, Madan Lokur, freedom to choose,उत्तर प्रदेश, लव जिहाद, कानून, पूर्व जज, मदन लोकूर, चुनने की आजादी,Hindi News,सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकुर ने इस कानून का विरोध किया है। (file)

उत्तर प्रदेश सरकार ने हालही में ‘लव जिहाद’ से जुड़ा कानून ‘गैर कानूनी धर्मांतरण विधेयक’ को मंजूरी दी है। यूपी सरकार के इस कदम की हर तरफ चर्चा हो रही है। वहीं मध्य प्रदेश और हरियाणा की भाजपा शासित सरकारों ने भी इसका समर्थन किया है। इसी बीच सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकुर ने इस कानून का विरोध किया है। पूर्व न्यायाधीश ने कहा कि लव जिहाद कानून चुनने की स्‍वतंत्रता के खिलाफ है।

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मदन लोकुर ने रविवार को एक लेक्‍चर के दौरान कहा, ‘उत्‍तर प्रदेश में हाल ही में पास हुआ वो अध्‍यादेश दुर्भाग्‍यपूर्ण है, जिसमें जबरन, धोखे या बहकावे से धर्मांतरण कर शादी कराने की बात कही गई है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि यह अध्‍यादेश चुनने की आजादी, गरिमा और मानवाधिकारों की अनदेखी करता है। मदन लोकुर ने यह भी कहा कि धर्मांतरण संबंधी शादियों के खिलाफ ये कानून सुप्रीम कोर्ट द्वारा चुनने की आजादी और व्‍यक्ति की गरिमा की रक्षा के लिए विकसित किए गए न्‍यायशास्‍त्र का उल्‍लंघन हैं।”

पूर्व न्यायाधीश ने 2018 के हादिया केस का जिक्र करते हुए कहा कि हादिया केस में सुप्रीम कोर्ट की ओर से दिए गए आदेश का क्‍या हुआ? लोकुर ने कोर्ट के आदेश का हवाले देते हुए कहा कि उसमें कहा गया था कि एक महिला अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन कर इस्‍लाम अपना सकती है और अपनी पसंद के आदमी से शादी कर सकती है।

बता दें यूपी के बाद हरियाणा, कर्नाटक औऱ कई अन्य बीजेपी शासित राज्यों में भी लव जिहाद पर कानून लाने की कवायद चल रही है। इस प्रस्तावित कानून के तहत, धर्म छिपाकर किसी को धोखा देकर शादी करने पर 10 साल की सज़ा होगी। माना जा रहा है कि यूपी सरकार आगामी विधानसभा सत्र में लव जिहाद से जुड़े विधेयक लाकर इसे पारित कराएगी। इस कानून के तहत लालच, झूठ बोलकर या जबरन धर्म परिवर्तन या शादी के लिए धर्म परिवर्तन को अपराध माना जाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 आम भारतीय का जीवन दुखों की यात्रा है, समाज जितना दुख देता है उससे अधिक सिस्टम देता है- नताशा नरवाल का उदाहरण दे बोले रवीश कुमार
2 आंदोलन: किसानों ने रागिनी गाकर केंद्र सरकार को कोसा
3 पिता ने शहला को बताया देशद्रोही तो पलटवार में बोलीं JNU छात्रा- वो औरतों को पीटने वाला भ्रष्ट इंसान; दिखाया ‘प्रमाण’
कृषि कानून
X