ताज़ा खबर
 

Delhi Election Results 2020: कई भाजपा उम्मीदवारों की हार की हैट्रिक, पूर्व मुख्यमंत्री के भाई भी हारे

Delhi Election/Chunav Results 2020: गलोई जाट विधानसभा से दो बार मनोज कुमार शौकीन हार चुके हैं वहीं तीसरी बार पत्नी सुमन लता शौकीन भी हार गईं।

नई दिल्ली | February 12, 2020 12:53 PM
भाजपा के कई ऐसे नेता है, जो जीत तो नहीं सके लेकिन हार की हैट्रिक जरूर लगाए हैं।

Delhi Election Results 2020: कांग्रेस भले ही विधानसभा चुनाव 2020 में अपना खाता तक नहीं खोल सकी है लेकिन शुरुआत से ही उसने कभी सत्ता की लड़ाई में अपने आप को दौड़ में नहीं माना था। इससे उलट भाजपा शुरुआत से ही खुद को दिल्ली में विकल्प के रूप में पेश कर रही थी। भाजपा के कई ऐसे नेता है, जो जीत तो नहीं सके लेकिन हार की हैट्रिक जरूर लगाए हैं। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने पूरा दमखम लगाया लेकिन दिल्ली वालों ने प्रत्याशियों को नकार दिया। मुंडका विधानसभा से मास्टर आजाद सिंह लगातार तीसरी बार हारे। यह पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के भाई भी हैं।

इसी तरह किराड़ी विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी अनिल झा ने भी तीसरी बार हार का स्वाद चख लिया है। नांगलोई जाट विधानसभा से दो बार मनोज कुमार शौकीन हार चुके हैं वहीं तीसरी बार पत्नी सुमन लता शौकीन भी हार गर्इं। इसी तरह वजीरपुर विधानसभा महेंद्र नागपाल है, मोतीनगर से सुभाष सचदेवा, तिलकनगर से राजीव बब्बर, द्वारका प्रदुम्र राजपूत, मटियाला राजेश गहलौत, नजफगढ़ अजित खडखड़ी, बिजवासन सत्यप्रकाश राणा, आरके पुरम अनिल कुमार शर्मा, छत्तरपुर ब्रहम सिंह तंवर, संगम विहार एससीएल गुप्ता, ओखला ब्रहम सिंह, बाबरपुर नरेश गौड़ हार, चांदनी चौक से सुमन गुप्ता की हैट्रिक लगाने वालों में शामिल है।

जबकि दूरी बार हारने वालों में त्रिलोकपुरी से किरण बैद्य, तुगलकाबाद से विक्रम बिधुड़ी, सदर बाजार से जय प्रकाश, करोल बाग से योगेंद्र चंदोलिया, शालीमार बाग से रेखा गुप्ता, राजेंद्र नगर से सरदार आरपी सिंह, कस्तूरबा नगर से रविंद्र चौधरी शामिल हैं।

भाकपा ने दिल्ली के लोगों को दिया धन्यवाद

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) की दिल्ली राज्य परिषद् ने अपने उम्मीदवारों के पक्ष में मतदान करने के लिए बवाना, पालम और तिमारपुर विधानसभा के सभी नागरिको का धन्यवाद। पार्टी ने दिल्ली के लोगों को एक बार फिर से भाजपा के एजंडे को हराकर आम आदमी पार्टी को बहुत बड़ा जनादेश देने के लिए धन्यवाद दिया है। दिल्ली के लोग सीएए, एनआरसी और एनपीआर विभाजनकारी एजंडा की अनुमति नहीं दिया है। पार्टी ने अरविंद केजरीवाल और उनकी टीम को भी बधाई दी है। पार्टी की ओर से कहा गया है कि सभी उम्मीदवारों ने पूरी मेहनत चुनाव लड़ा।

Next Stories
1 आप की जीत में बड़ा रोल रहा टैक्सी कारोबारी प्रीति का, मुंबई से दिल्ली आकर किया कैम्प
2 Delhi Election Results 2020: शिक्षा की बात तो युवा हुए आप के साथ, रोजगार के मुद्दे पर किया मतदान
3 ‘जो बजरंगबली की शरण में जाता है, निश्चित ही आशीर्वाद मिलता है’, आप की जीत पर कैलाश विजयवर्गीय का तंज, लोग बोले- विकास की भी बात कर लो
ये पढ़ा क्या?
X