आज सभी सांसदों और स्टाफ को लंच कराएंगी स्पीकर सुमित्रा महाजन, जो नहीं जा पाएंगे उनकी सीट पर भिजवाया जाएगा पैकेट

देशभर में मंगलवार को हिन्दू नववर्ष (नव संवत्सर) और नवरात्र की शुरुआत हो चुकी है

Author Updated: March 28, 2017 10:22 AM
Speaker Sumitra Mahajanलोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन (Express Photo)

देशभर में मंगलवार को हिन्दू नववर्ष (नव संवत्सर) और नवरात्र की शुरुआत हो चुकी है। नव वर्ष के मौके पर संसद में विशेष कार्यक्रम रखा गया है। इसके अलावा, लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सभी सांसदों और संसदीय स्टाफ को लंच कराने का फैसला किया है। इतना ही नहीं, चूंकि यह वर्किंग डे है तो हो सकता है काम के चलते कुछ लोग लंच करने ना आ सकें। ऐसे लोगों के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। खाने का पैकेट इन लोगों की सीट पर ही भिजवा दिया जाएगा। सूत्रों के मुताबिक, संसद में महाराष्ट्र शैली में जहां गुड़ी टांगी जाएगी तो वहीं खास दक्षिण भारतीय रंगोली की सज्जा भी होगी।

बता दें कि पिछले हफ्ते लोकसभा स्पीकर ने सभी सांसदों के लिए आमिर खान की फिल्म दंगल की स्पेशल स्क्रीनिंग रखी थी। सुमित्रा महाजन ने दोनों सदन के सभी सांसदों को बालयोगी ऑडिटोरियम में होने वाली स्पेशल स्क्रीनिंग में शामिल होने को कहा था। वहीं, इससे पहले महिला दिवस को सेलिब्रेट करने के लिए लोकसभा स्पीकर की तरफ से डिनर पार्टी दी गई थी। यह पार्टी सुमित्रा महाजन के आवास पर हुई थी, जिसमें सभी महिला सांसदों को न्यौता दिया गया था।

इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, डिनर में लगभग 80 महिला सांसद आई हुई थीं। पार्टी में गरबा, बांग्ला शायरी के साथ-साथ हंसी-मजाक सब कुछ हुआ। डिनर के अलावा यह कार्यक्रम लगभग 50 मिनट तक चला। वहां बीजेपी सांसद पूनम महाजन और कांग्रेस सांसद सुष्मिता डेब ने बताया कि दोनों लोकसभा में चाहे कितनी बहस करती हों लेकिन बाद में साथ में बैठकर कॉफी जरूर पीती हैं।

क्या है हिन्दू नववर्ष:

हिन्दु नव वर्ष यानी विक्रम संवत् का शुभारंभ चैत्र मास की शुक्ल पक्ष प्रतिपदा से होता है। इस बार प्रतिपदा मंगलवार को है। जहां सुबह 8 बजकर 30 मिनट तक अमावस्या है वहीं प्रतिपदा अगले दिन सूर्योदय के पहले ही प्रतिपदा समाप्त हो रही है। ऐसे में मंगलवार को ही नए संवत्सर 2074 का शुभारंम माना जाएगा।

Next Stories
1 विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यूपी में अफ्रीकी नागरिकों की गिरफ्तारी पर मांगी रिपोर्ट
2 पूरे देश में शराबबंदी लागू करने की मांग
3 साहित्य अकादमी पुरस्कार पाने वाले इस सम्मान को लौटाने के हकदार नहीं हैं
यह पढ़ा क्या?
X