ताज़ा खबर
 

केंद्रीय बलों के जवान दिखें तो झाड़ू से मारो, छोड़ो नहीं- लोगों को उकसाते कैमरे में कैद हुए तृणमूल नेता

Loksabha Election 2019: अगर जंग जितना चाहते हैं तो इसमें सही और गलत नहीं देखा जाता। सिर्फ जीतना ही सबकुछ होता है।

कार्यक्रर्ताओं को संबोधित करती रत्न घोष। फोटो सोर्स: एनएनआई

Loksabha Election 2019: तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के दो नेताओं ने केंद्रीय बलों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया है। राज्य में जारी लोकसभा चुनाव के बीच कार्यकर्ताओं और मतदाताओं को उकसाते हुए एक नेता ने कहा है कि केंद्रीय बलों के जवान दिखें तो उन्हें झाड़ू से मारो तो दूसरे ने कहा कि जवानों से डरने की जरूरत नहीं अगर उन्होंने कुछ गलत किया तो उन्हें छोड़ना मत।

चकदाह से विधायक रत्न घोष कार्यकर्ताओं को उकसाते कैमरे में कैद हुईं हैं। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि उन्हें चुनावी ड्यूटी में तैनात जवानों से डरने की जरूरत नहीं है। टाइम्स नाउ ने इसका वीडियो भी शेयर किया है।वीडियो में वह महिला मोर्चा की सदस्यों को उकसाते हुए कहती हैं कि अगर जंग जितना चाहते हैं तो इसमें सही और गलत नहीं देखा जाता। लोकतांत्रिक या अलोकतांत्रिक तरीके से हमें जीतना ही होगा।

वह आगे कहती हैं ‘मैंने पार्टी कार्यकर्ताओं को 2016 के चुनाव में केंद्रीय बलों के हाथों पिटते हुए देखा है। मैंने देखा था कि उस दौरान कितना खूनखराबा हुआ। लेकिन अब जब भी वह हमें रोकने की कोशिश करें तो महिला कार्यकर्ता, नेता और कार्यकर्ता झाडू से उनकी पिटाई कर उन्हें वापस भेजने पर मजबूर करें।’

यही नहीं पार्टी के बीरभूम जिलाध्यक्ष अनुब्रत मंडल ने भी विवादित बयान दिया है। उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि ‘आप लोगों को डरने की जरूरत नहीं है लेकिन अगर वह कुछ गलत करेंगे तो उन्हें छोड़ना मत। सेना के जवान आएंगे। आप वोट देने जाइए। लेकिन चिंता की कोई बात नहीं है।’

बता दें कि पश्चिम बंगाल में सात चरणों में चुनाव हो रहे हैं और केंद्रीय बलों की भी तैनाती की गई है। 11 अप्रैल को पहले चरण के लिए मतदान किया जा चुका है। देखिए पूरा वीडियो:-

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 प्रशांत भूषण ने नियम तोड़कर की वकालत, देना पड़ा तीन जगह से इस्तीफा
2 आयकर विभाग की अपील पर कार्ति, नलिनी चिदंबरम को नोटिस
3 आयोग की कार्रवाई से सुप्रीम कोर्ट संतुष्ट
ये पढ़ा क्या?
X