ताज़ा खबर
 

साध्वी प्रज्ञा ने कहा- गौ मूत्र से मेरा कैंसर ठीक हुआ, गाय पर हाथ फेरने से ब्लड प्रेशर होता है कंट्रोल

भाजपा प्रत्याशी ने गाय के अन्य गुणों की जानकारी देते हुए कहा 'गाय से बने उत्पादों का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसके जरिए मेरा कैंसर ठीक हुआ है। मैं एक कैंसर की मरीज थी, मैंने गौ मूत्र और पंचगव्य औषधी के सेवन से कैंसर को दूर किया। मैं इसकी प्रत्यक्ष प्रमाण हूं।'

भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा।

मध्यप्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि गौ धन के सेवन से उनका कैंसर ठीक हुआ है। इंडिया टुडे टीवी से बातचीत में साध्वी ने यह जानकारी दी। साध्वी ठाकुर ने कहा गौ मूत्र से बनी दवाई खाने से उन्हें सबसे ज्यादा फायदा हुआ। इंडिया टुडे टीवी के एक रिपोर्टर ने जब साध्वी से पूछा कि आजकल देश में गाय को लेकर राजनीति क्यों हो रही है? इस पर साध्वी ने कहा कि ‘यह बेहद तकलीफदेय है जिस तरह से देश में गौ माता के साथ व्यवहार किया जाता है। जबकि गौ धन एक अमृत है।’

इस दौरान भाजपा प्रत्याशी ने गाय के अन्य गुणों की जानकारी देते हुए कहा ‘गाय से बने उत्पादों का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसके जरिए मेरा कैंसर ठीक हुआ है। मैं एक कैंसर की मरीज थी, मैंने गौ मूत्र और पंचगव्य औषधी के सेवन से कैंसर को दूर किया। मैं इसकी प्रत्यक्ष प्रमाण हूं।’ बता दें कि गाय से प्राप्त पांच गव्यों के मिश्रण को ‘पंचगव्य’ कहते हैं। इसे गाय के दूध, दही, घी, गोमूत्र और गोबर के पानी से मिलकर बनाया जाता है। प्रज्ञा ठाकुर 2008 में हुए मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी हैं और वह स्तर कैंसर की मरीज रह चुकी हैं।

इस दौरान उन्होंने ये भी बताया कि किस तरह गाय के ऊपर प्रतिदिन हाथ फेरने से मनुष्य का ब्लड प्रेशर (बीपी) कंट्रोल में रहता है। साध्वी ने बताया कि अगर हम गाय के मुंह की ओर से पीठ की तरफ हाथ घुमाते हैं, तो उन्हें और हमें दोनों को सुख मिलता है। उन्होंने कहा कि वहीं, अगर हम गाय की पीठ से चेहरे की तरफ हाथ घुमाते हैं तो उन्हें तकलीफ होती है, वो खुद तकलीफ सहती हैं, लेकिन हमें सुख पहुंचाती हैं और लेकिन हमारा बीपी कंट्रोल होता है। उन्होंने दावा किया कि इसकी पुष्टि वैज्ञानिक ने खुद की है।

बता दें कि साध्वी कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ भोपाल से चुनावी मैदान में उतरी हैं। सोमवार (22 अप्रैल 2019) को उन्होंने अपना नामांकन दाखिल किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App