ताज़ा खबर
 

संसद में प्रश्न काल के दौरान इधर-उधर चला गया था केंद्रीय मंत्री का ध्यान, लोकसभा स्पीकर ने लगाई फटकार; कहा- यहां दें ध्यान

सभापति ने इस पर कहा कि जिन सांसदों ने प्रश्न पूछने के लिए नाम दिए थे, लेकिन अब वह सदन में मौजूद नहीं है, उन्हें अब संसद के शीतकालीन सत्र में सवाल पूछने का मौका नहीं दिया जाएगा।

Author नई दिल्ली | Published on: December 3, 2019 7:47 PM
लोकसभा स्पीकर ओम बिरला (ani image)

लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने आज लोकसभा की कार्यवाही के दौरान केन्द्रीय मंत्री को फटकार लगा दी। दरअसल संसद में प्रश्नकाल के दौरान एक सवाल पर केन्द्रीय मंत्री का ध्यान इधर-उधर चला गया था, जिसके चलते लोकसभा स्पीकर ने उन्हें फटकार लगाते हुए उन्हें ध्यान देने को कहा। दरअसल शिवसेना सांसद हेमंत तुकाराम गोडसे ने संसद में पूरक प्रश्न पूछा। इस पर केन्द्रीय उपभोक्ता राज्यमंत्री रावसाहेब पाटिल दानवे ने सवाल दोहराने को कहा।

इस पर लोकसभा स्पीकर ओम बिरला नाराज हो गए और उन्होंने कहा “माननीय मंत्री, सवालों पर ध्यान दें और ध्यानपूर्वक सुनें।” इसके बाद लोकसभा स्पीकर ने शिवसेना सांसद गोडसे से कहा ‘मैं आपको एक और मौका देता हूं, लेकिन कोई दूसरा सवाल पूछिए।’ जब गोडसे ने अपना दूसरा सवाल पूछा तो रावसाहेब पाटिल दानवे के बराबर में बैठे केन्द्रीय उपभोक्ता मंत्री राम विलास पासवान ने खड़े होकर उस सवाल का जवाब दिया।

सभापति ने पूरक प्रश्न पूछने के लिए नाम देने वाले सांसदों की गैरमौजूदगी पर भी नाराजगी जाहिर की। सभापति ने इस पर कहा कि जिन सांसदों ने प्रश्न पूछने के लिए नाम दिए थे, लेकिन अब वह सदन में मौजूद नहीं है, उन्हें अब संसद के शीतकालीन सत्र में सवाल पूछने का मौका नहीं दिया जाएगा।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सांसदों की संसद से गैरहाजिरी पर चिंता जाहिर की है। मंगलवार को भाजपा के संसदीय दल की बैठक हुई, जिसमें इस बात का जिक्र किया गया। हालांकि पीएम मोदी झारखंड में चुनाव प्रचार के चलते इस बैठक में हिस्सा नहीं ले सके। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बैठक में पीएम मोदी का संदेश सामने रखा। प्रधानमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि जब सदन में किसी बिल पर चर्चा हो रही हो, तो सभी सांसदों को वहां उपस्थित होना चाहिए।

वहीं स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (संशोधन) विधेयक मंगलवार को राज्यसभा में पास हो गया। वहीं कांग्रेस ने इसके विरोध में सदन से वॉकआउट किया। लोकसभा में यह विधेयक पहले ही पास हो चुका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: हैदराबाद गैंगरेप के आरोपी की मां ने कहा- बेटे को जीने का हक नहीं, मानकर जी रही कि बेटा पैदा ही नहीं हुआ
2 हाल-ए-यूपीः DM ले रहे थे बैठक, 5 मिनट के लिए हुई बत्ती गुल! जूनियर इंजीनियर को भिजवाया लॉक-अप तो यूनियन ने खोला मोर्चा
3 पीएम मोदी के बुलेट ट्रेन का सपना रह जाएगा अधूरा! महाराष्ट्र के मंत्री बोले- कर्ज बहुत ज्यादा, रोक सकते हैं प्रोजेक्ट
जस्‍ट नाउ
X