ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Elections 2019: चुनाव खत्म होते ही खातों से वापस हो गए PM किसान निधि के 2000 रुपए, मचा हाहाकार

Lok Sabha Elections 2019: चुनावी आचार संहिता लागू होने से पहले पीएम किसान निधी योजना के तहत किसानों के खातों में पहली किस्त के तहत दो-दो हजार रुपए डाले गए।

Author Updated: May 18, 2019 8:29 AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

Lok Sabha Elections 2019: लोकसभा चुनाव के लिए मतदान के छह चरण पूरे होने के बाद एक खबर तेजी से सोशल मीडिया में फैल रही है कि पीएम स्कीम के तहत किसानों के खातों में दिया गया पैसा वापस निकाला जाने लगा है। उत्तर प्रदेश के स्थानीय अखबारों में तो बकायदा इस खबर को प्रमुखता से जगह मिली है। दरअसल चुनावी आचार संहिता लागू होने से पहले पीएम किसान निधी योजना के तहत किसानों के खातों में पहली किस्त के तहत दो-दो हजार रुपए डाले गए। पैसा केंद्र सरकार की तरफ से भेजा गया था। अब लोकसभा चुनाव के लिए मतदान लगभग पूरा होने के बाद उत्तर प्रदेश के कई शहरों में किसानों ने शिकायत की है कि उनके खातों में पीएम स्कीम के तहत डाली गई राशि वापस निकाल ली गई है।

ऐसे ही कई मामले मुजफ्फरनगर जनपद में सामने आए हैं। यहां भी किसानों ने पीएम स्कीम के तहत मिली राशि वापस निकाले जाने की बात कही है। किसानों ने बताया कि उन्हें इस बात की जानकारी तब मिली जब वह योजना के तहत खातों में आई राशि निकालने गए। स्थानीय खबरों के मुताबिक किसान बैंक पहुंचे तो बैंक अधिकारियों ने बताया उनके खातों में कोई राशि नहीं है, पैसे काट लिए गए। किसान यूनियन ने किसानों संग इस बर्ताव का विरोध करते हुए कहा, ‘सरकार ने हमारे साथ धोखा किया।’

ऐसे ही फिरोजाबाद में नारखी गांव हंसराम के निवासी निरोत्तम सिंह ने सरकार के इस व्यवहार पर नाराजगी जताते हुए कहा, ‘डेढ़ महीना पहले मोबाइल पर संदेश भेजकर बताया गया कि खाते में पीएम योजना के तहत दो हजार रुपए डाले गए हैं। अब बैंक से रकम निकालने गए तो बताया गया कि खाते में कोई राशि ही नहीं है। एक सप्ताह बाद राशि के लिए बैंक में जाकर संज्ञान लिया मगर खाते कोई राशि नहीं थी।’

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसान सम्मान योजना के तहत इस योजना की शुरुआत की थी। योजना के मुताबिक हर लघु और सीमांत किसान को प्रति एकड़ जमीन के हिसाब से राहत राशि के रूप में छह हजार रुपए की राशि सालभर में देने की घोषणा की थी। किसानों को यह राशि तीन किस्तों में दी जानी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: ‘हट जाइए भैया, हट जाइए’, चुनाव प्रचार के आखिरी दिन स्कूटी रैली निकाल रहीं स्मृति ईरानी चिल्ला पड़ीं
2 Loksabha Elections 2019: ‘प्रेस कॉन्फ्रेंस नहीं प्रेस अपीयरेन्स था’, मीडिया के सवाल का जवाब नहीं देने पर हो रही PM नरेंद्र मोदी की खिंचाई
3 Lok Sabha Elections 2019: ‘बीजेपी कैंडिडेट है नागनाथ, उसे हराइए’, टिकट नहीं मिलने से भड़के भूमिहार डॉक्टर ने समुदाय से की अपील