ताज़ा खबर
 

मोदीजी की मदद के लिए पाकिस्‍तान ने मार दिए 40 जवान? सवाल पूछ ट्रोल हुए अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि क्या चुनाव (Lok Sabha Election 2019) से पहले पीएम मोदी की मदद करने के लिए पाकिस्तान ने पुलवामा में हमारे 40 सैनिकों को मार दिए।

AAP के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

आम आदमी पार्टी (AAP) प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पुलवामा हमले में मारे गए शहीदों को लेकर ऐसे सवाल पूछे जिसकी वजह से वह ट्रोल्स के निशाने पर आ गए। केजरीवाल ने मोदी सरकार को घेरने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के उस बयान का सहारा लिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर मोदी सरकार दोबारा सत्ता में आती है, तो पाकिस्तान के नजरिए से बेहतर होगा। इस पर केजरीवाल ने ट्वीट करके पूछा कि क्या चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में मोदी को फायदा पहुंचान के लिए पाकिस्तान ने पुलावामा में हमारे 40 बहादुर सैनिकों को मार दिए।

दरअसल, सबसे पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने ट्वीट के जरिए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री के बयान का हवाला दिया और पीएम मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “जब विपक्ष ने सेना के राजनीतिकरण पर सवाल उठाए तो मोदी ने हमें पाक-समर्थक करार दे दिया। लेकिन, अब पाकिस्तान के पीएम ने मोदी का समर्थन किया है। वह हमारे शत्रु का समर्थन हासिल कर रहे हैं।” इस पर अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, “पाकिस्तान और इमरान खान ने खुले तौर पर मोदी जी का समर्थन किया है। इससे स्पष्ट होता है कि मोदी जी का उनके साथ कोई गोपनीय समझौता हुआ है। हर कोई पूछ रहा है- क्या चुनाव से पहले मोदी जी की मदद के लिए पाकिस्तान ने 14 फरवरी को हमारे 40 बहादुर जवानों को मार दिया?

केजरीवाल के इस ट्वीट के बाद उनकी आलोचना शुरू हो गई। उन्हें सोशल मीडिया पर बुरी तर ट्रोल किया जाने लगा। कुछ लोगों ने केजरीवाल को सबूत मांगने वाला पाकिस्तान परस्त बताया। तो कुछ ने कहा कि इमरान खान की राजनीति जनता को समझ आती है। एक शख्स ने पाक चैनल का एक वीडियो पोस्ट करते हुए केजरावल समेत विपक्षी दलों पर निशाना साधा।

इसके अलावा कई लोगों ने केजरीवाल को आड़े हाथों लेते हुए, दूसरे विपक्षी दलों पर भी निशाना साधा। केजरीवाल ट्रोल करते हुए लोगों ने उनके पुराने बयान को याद दिलाया। जिसमें सर्जिकल एवं एयर-स्ट्राइक के सबूत मांगे गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 पाकिस्‍तानी पायलट्स को मिली राफेल उड़ाने की ट्रेनिंग? खबर पर फ्रांस ने जारी किया बयान
2 नरेंद्र मोदी से नाखुश हैं पीएमओ के अधिकारी, आठ ने मांगा ट्रांसफर या फिर वीआरएस लेने की तैयारी
3 Kerala Karunya Plus Lottery : 40 रुपए के टिकट का मिला 80 लाख रुपया
ये पढ़ा क्या?
X