ताज़ा खबर
 
title-bar

Lok Sabha Election 2019: भाजपा नेतृत्व पर 1800 करोड़ रुपये की घूस लेने का आरोप, सुरजेवाला बोले- डायरी के हर पेज पर येदुरप्पा के दस्तखत

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): कांग्रेसी नेता ने आगे पूछा, "अगर यही मामला है, तब फिर मोदी जी (पीएम) और बीजेपी ने इसकी जांच क्यों नहीं कराई?"

पत्रकारों को संबोधित करते हुए कांग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला।

Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव से ऐन पहले कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के शीर्ष नेतृत्व पर गंभीर आरोप लगाए हैं। शुक्रवार (22 मार्च, 2019) को कांग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला ने ‘येद्दी डायरीज’ का जिक्र किया और दावा किया कि बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक में मुख्यमंत्री रहने के दौरान बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं को घूस दी थी। उन नेताओं में राजनाथ सिंह से लेकर अरुण जेटली तक के नाम शामिल हैं। आरोप है कि बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व को 1800 करोड़ रुपए की रिश्वत दी गई।

सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में आगे कहा, “यह सच है या फिर झूठ? डायरी में बीएस येदियुरप्पा के दस्तखत भी थे, जो कि साल 2017 से आयकर विभाग के पास है। अगर यही मामला है, तब फिर मोदी जी (पीएम) और बीजेपी ने इसकी जांच क्यों नहीं कराई?” वहीं, जितिन प्रसाद के बीजेपी में जाने से जुड़ी मीडिया रिपोर्ट्स को लेकर उनसे सवाल पूछा गया। सुरजेवाला का जवाब आया- यह पूरी तरह से बकवास है। ऐसा कुछ भी नहीं है। हालांकि, बीजेपी ने इस कथित डायरी को लेकर सफाई में कहा कि उस पर येदियुरप्पा के हस्ताक्षर नहीं है।

उधर, येदियुरप्पा ने इस बाबत पत्रकारों से कहा कि कांग्रेस और उसके नेताओं के पास विचारों की भीषण कमी है। यही वजह है कि वे मोदी जी की बढ़ती लोकप्रियता से त्रस्त है। वे जंग शुरू होने से पहले ही उसे हार चुके हैं। आयकर अधिकारी पहले ही यह साबित कर चुके हैं कि वे दस्तावेज फर्जी और नकली हैं।

वहीं, शाम करीब चार बजे केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस संबंध में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने उसमें कांग्रेस के आरोपों पर पलटवार किया और कहा कि येदियुरप्पा की डायरी लिखने की आदत नहीं है। राहुल गांधी आज कहां गायब हैं। दिन भर इंतजार करते रहे, पर वह बाहर नहीं आए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App