ताज़ा खबर
 

India Lockdown 27 April Highlights: लॉकडाउन से कैसे बाहर आएगा देश? PM मोदी ने उपायों पर मुख्यमंत्रियों से की बात

Coronavirus Lockdown Extension in India Latest News Update Today: बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन के अलावा प्रधानमंत्री कार्यालय एवं अन्य संबद्ध मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने शिरकत की।

कोरोना संकट, लॉकडाउन पर सोमवार को देश के मुख्यमंत्रियों को संबोधित करते प्रधानमंत्री मोदी। (फोटोः पीटीआई)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण की देश में मौजूदा स्थिति और इस कारण 25 मार्च से लागू देशव्यापी बंद (लॉकडाउन) सहित अन्य विषयों पर सोमवार को विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कर चर्चा की। समझा जाता है कि बैठक में देश को लॉकडाउन से चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर भी विचार विमर्श हुआ।

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च से दो चरण में लॉकडाउन लागू किया गया है। देश में कोरोना संकट की शुरुआत के बाद 22 मार्च से अब तक प्रधानमंत्री मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चार बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक कर चुके हैं।

बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन के अलावा प्रधानमंत्री कार्यालय एवं अन्य संबद्ध मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने शिरकत की। इसके अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन सहित विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी बैठक में हिस्सा लिया।

कोरोना वायरस से जुड़ी अन्य जानकारी के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें | गृह मंत्रालय ने जारी की डिटेल गाइडलाइंस | क्या पालतू कुत्ता-बिल्ली से भी फैल सकता है कोरोना वायरस? | घर बैठे इस तरह बनाएं फेस मास्क | इन वेबसाइट और ऐप्स से पाएं कोरोना वायरस के सटीक आंकड़ों की जानकारी, दुनिया और भारत के हर राज्य की मिलेगी डिटेलक्या गर्मी बढ़ते ही खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस?

Live Blog

Highlights

    06:31 (IST)28 Apr 2020

    कोविड-19 मरीज के कारण जेजे अस्पताल ने डायलिसिस विभाग को बंद किया 

    मुंबई में सरकारी जेजे अस्पताल ने कोरोना वायरस से एक मरीज के संक्रमित पाये जाने के बाद अपने डायलिसिस विभाग में कामकाज को स्थगित कर दिया है। वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को इसकी जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि अस्पताल के 25 कर्मचारियों को एहतियात के तौर पर पृथक-वास में भेजा गया है। अधिकारी ने कहा, ‘‘जे जे अस्पताल में कामकाज फिर से शुरू करने में अभी कुछ दिन लगेंगे। केवल एक व्यक्ति को आपातकालीन मामलों को देखने के लिए नियुक्त किया जाता है।’’

    06:11 (IST)28 Apr 2020
    पुणे में कोरोना वायरस के 84 और मामले सामने आये

    महाराष्ट्र के पुणे में कोविड-19 संक्रमण के 84 नये मामले सामने आये जिसके बाद सोमवार को कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 1,348 हो गई है। एक अधिकारी ने बताया कि पुणे जिले में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से तीन और लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 80 हो गई है।

    05:14 (IST)28 Apr 2020
    कोरोना संक्रमण के कारण निषिद्ध क्षेत्र को मुख्यमंत्री ने दिया सील करने का निर्देश

    मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से हो रही बढ़ोत्तरी को देखते हुए निषिद्ध क्षेत्र को सील करते हुये आवाजाही पर पूरी तरह रोक लगाने और संक्रमण को लेकर जांच में तेजी लाने के निर्देश दिये हैं। झारखंड मंत्रालय सभागार में कोरोना संकट को लेकर गठित राज्यस्तरीय समन्वय समिति की पहली बैठक में इस महामारी से बचाव और इलाज, गरीबों और जरुरतमंदों को भोजन और राशन उपलब्ध कराने, राज्य के भीतर और दूसरे राज्यों में फंसे मजदूरों को सहायता उपलब्ध कराने और लॉकडाउन के पालन को लेकर उठाए जा रहे कदमों की जानकारी अधिकारियों से ली गयी और आवश्यक निर्देश दिए गये।

    04:17 (IST)28 Apr 2020
    लॉकडाउन पर केंद्र के दिशानिर्देशों का पालन करेगी दिल्ली सरकार : अधिकारियों ने कहा

    दिल्ली सरकार लॉकडाउन बढ़ाने या नहीं बढ़ाने पर केंद्र के दिशानिर्देशों का पालन करेगी। अधिकारियों ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंंिसग से आयोजित बैठक के बाद यह बात कही। इस बैठक में मुख्यमंत्री अरंिवद केजरीवाल ने भी हिस्सा लिया। मोदी ने कोरोना वायरस फैलने से उपजे हालात पर चर्चा करने के लिए आज मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंंिसग से चर्चा की। दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हम अपना पक्ष तैयार कर रहे हैं जिसे जल्द केंद्र को भेजा जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लॉकडाउन पर केंद्र के दिशानिर्देशों का दिल्ली सरकार पालन करेगी।’’ अधिकारी ने कहा कि बैठक में नौ मुख्यमंत्रियों ने प्रधानमंत्री के साथ बातचीत की जिसमें उन्होंने लॉकडाउन बढ़ाने की संभावना समेत अनेक मुद्दों पर चर्चा की।

    22:01 (IST)27 Apr 2020
    उपराज्यपाल मुर्मू ने तीन मई के बाद की परिस्थिति के लिए समग्री रणनीति बनाने को कहा

    जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने सोमवार को इस केंद्रशासित प्रदेश में कोविड-19 का मुकाबला करने के लिए तीन मई के बाद के परिदृश्य के लिए पहले से समग्र रणनीति तैयार करने को कहा। एक सरकारी प्रवक्ता के अनुसार वीडियो कांफ्रेंस के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत करने के शीघ्र बाद उपराज्यपाल ने एक बैठक की। इसमें उन्होंने कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए उभरती नयी स्थिति एवं आगे की योजना पर चर्चा की। मुर्मू ने इस केंद्रशासित प्रदेश कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में प्रशासन के सभी स्तरों पर सतत प्रयासों के महत्व पर जोर दिया और अधिकारियों से प्रभावी तीव्र कार्रवाई प्रणाली तैयार करने को कहा ताकि लॉकडाउन हटाये जाने के बाद उभरने वाली किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पहले से ही सक्रिय कदम उठाया जा सके।

    21:40 (IST)27 Apr 2020
    फंसे लाखों लोगों के लिए एसओपी तैयार की जाने की अपील

    ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू किये गए लॉकडाउन की वजह देशभर में फंसे लाखों लोगों की सुचारू आवाजाही के लिए राष्ट्रीय मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार की जाने की अपील की। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बैठक के दौरान राजस्थान के कोटा में फंसे छात्र-छात्राओं का मामला उठाते हुए कहा कि केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के अनुरुप हमलोग लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं, इसलिये जबतक दिशानिर्देशों में अनुकूल बदलाव नहीं होता फंसे छात्रों को वापस लाना संभव नहीं है। पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से हुई बैठक के दौरान ज्यादातर मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन तीन मई के बाद भी आगे बढ़ाने की राय दी और साथ ही सजग रुख के साथ आगे बढ़ने का आग्रह किया।

    21:05 (IST)27 Apr 2020
    ‘दो गज दूरी’ बनाकर रखनी होगी, आने वाले दिनों में जीवन का हिस्सा बन जाएगा मास्क

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ‘दो गज दूरी’ का मंत्र दोहराते हुए सामाजिक अंतराल बनाकर रखने पर जोर दिया और कहा कि आने वाले दिनों में मास्क और चेहरे ढकने वाले गमछे हमारे जीवन का हिस्सा बन जाएंगे। अनेक राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत में मोदी ने इस बारे में भी आगाह किया कि इस घातक वायरस का खतरा जल्द खत्म नहीं होने वाला और सतत निगरानी की अत्यंत आवश्यकता है। एक आधिकारिक बयान के अनुसार मोदी ने कहा कि आने वाले दिनों में मास्क और गमछे हमारे जीवन का हिस्सा बन जाएंगे। प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से आग्रह किया कि आगे की रणनीतियों को आकार देते समय मौसम में परिवर्तन-गर्मियों तथा मानसून के आने तथा इस मौसम में संभावित बीमारियों को ध्यान में रखा जाए। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शुक्रवार को ग्राम पंचायतों को संबोधित करते हुए मोदी ने सामाजिक दूरी को ‘दो गज दूरी’ के सामान्य शब्दों में परिभाषित करने के लिए ग्रामीण भारत की सराहना की थी। उन्होंने रविवार को ‘मन की बात’ कार्यक्रम में भी इन शब्दों का इस्तेमाल किया था।

    20:35 (IST)27 Apr 2020
    लॉकडाउन में आंशिक छूट के दौरान बिजली की मांग बढ़ने की उम्मीदों पर ठंडे मौसम ने पानी फेरा

    सरकार ने 20 अप्रैल से लॉकडाउन में कुछ आर्थिक गतिविधियों के लिए छूट दी है, लेकिन इससे बिजली की मांग में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई। इस दौरान मौसम में ठंडक बढ़ने से बिजली की मांग स्थिर रही। बिजली मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसा 26 अप्रैल रविवार को व्यस्त समय में बिजली की मांग 123.65 गीगावॉट की रही। वहीं आंशिक छूट से एक दिन पहले 19 अप्रैल को रविवार के दिन यह 129.46 गीगावॉट थी। व्यस्त समय की बिजली की मांग से तात्पर्य उस दिन देशभर में बिजली आपूर्ति के वास्तविक उच्चस्तर है। उद्योग के एक विशेषज्ञ ने कहा कि बिजली की मांग में बढ़ोतरी की उम्मीद थी, लेकिन ठंडे मौसम ने इन उम्मीदों पर पानी फेर दिया। विशेषज्ञों का कहना है कि अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के उच्चस्तर तक जाता है। लेकिन पिछले सप्ताह के दौरान यह औसतन 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास बना रहा।

    20:16 (IST)27 Apr 2020
    चौहान ने 3 मई के बाद तैयारियों के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना नियंत्रण एवं कोरोना संकट से उत्पन्न परिस्थितियों के संबंध में राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सोमवार को शामिल होने के बाद मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के अधिकारियों को मोदी के निर्देशों के अनुरूप कोरोना के उपचार, तीन मई के बाद तैयारियों और आर्थिक गतिविधियों के संचालन के लिए प्रस्ताव तैयार करने को कहा। देश में चल रहे लॉकडाउन का दूसरा चरण तीन मई को समाप्त होना है। मध्य प्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ''मुख्यमंत्री चौहान ने प्रधानमंत्री मोदी की वीडियो कान्फ्रेंसिंग के बाद मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस और अन्य अधिकारियों से चर्चा की। चौहान ने अधिकारियों को प्रधानमंत्री के निर्देशों के अनुरूप कोरोना के उपचार, 3 मई के बाद तैयारियों और आर्थिक गतिविधियों के संचालन के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।'' उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा राज्यों से आने वाले दिनों के लिए मॉडल तैयार करने के निर्देश के संबंध में भी आवश्यक कदम उठाने को कहा गया।

    19:52 (IST)27 Apr 2020
    दिल्ली पुलिस के हेल्पलाइन नंबर पर 24 घंटे में 750 कॉल आए

    दिल्ली पुलिस के सातो दिन 24 घंटे खुले रहने वाले हेल्पलाइन पर रविवार दोपहर दो बजे से सोमवार दोपहर दो बजे तक लोगों ने 750 कॉल कर लॉकडाउन के दौरान आ रही परेशानी में सहायता मांगी। अधिकारियों ने बताया कि पुलिस के हेल्पलाइन नंबर 011-23469526 पर शुक्रवार तक 30,899 कॉल आए। इनमें से 750 कॉल रविवार दोपहर दो बजे से सोमवार दोपहर दो बजे के बीच आए। उन्होंने बताया कि 750 कॉल में 52 कॉल दिल्ली के बाहर के इलाकों से जुड़े थे जिन्हें संबंधित राज्य के हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करने को कहा गया। अधिकारियों ने बताया कि चार कॉल में खाना और पैसा नहीं होने की शिकायत की गई जिसके बाद इन्हें गैर सरकारी संगठनों को अग्रसारित कर दिया गया। उन्होंने बताया कि 558 कॉल आवाजाही पास से संबंधित थे।

    19:27 (IST)27 Apr 2020
    लॉकडाउन में सांप्रदायिक आग भड़काने की साजिश से कैसे निपटेगी बिहार पुलिस

    हिंदुओं की दुकानों पर भगवा ध्वज लगाए जाने जैसी घटना की बीच लॉकडाउन में सांप्रदायिक आग भड़काने की साजिश से कैसे निपटेगी बिहार पुलिस? डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने दिए इस समय की पूलिसिंग से जुड़े कई सवालों के जवाब।

    19:07 (IST)27 Apr 2020
    केंद्र लॉकडाउन पर विरोधाभासी बयान दे रहा है

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को आरोप लगाया कि केंद्र लॉकडाउन लागू करने पर विरोधाभासी बयान दे रहा है। उन्होंने दुकानों के खोलने के विषय पर गृह मंत्रालय के हाल के आदेश पर और स्पष्टता की मांग की। बनर्जी ने दावा किया कि मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री के वीडियो कांफ्रेस के दौरान कई राज्यों को बारी-बारी वाली व्यवस्था के चलते बोलने नहीं दिया गया और उन्हें यदि मौका दिया जाता है तो वह बंगाल में केंद्रीय दल भेजने की आवश्यकता समेत कई प्रश्न उठाती हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘ केंद्र लॉकडाउन पर विरोधाभासी बयान दे रहा है। कोई स्पष्टता नहीं है। हम लॉकडाउन के पक्ष में हैं। लेकिन केंद्र एकतरफ तो लॉकडाउन लागू करने पर जोर देता है लेकिन दूसरी तरह वह दुकानों को खोलने का आदेश देता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ यदि आप दुकानें खोलते हैं तो कैसे आप लॉकडाउन लागू करेंगे। मैं सोचती हूं कि केंद्र को स्पष्टता के साथ सामने आना चाहिए।’’

    18:52 (IST)27 Apr 2020
    वाहन कंपनियों का उत्पादन अभी रुका हुआ है, आपूर्ति श्रृंखला खुलने का इंतजार

    केंद्र सरकार के उद्योगों को आंशिक तौर पर फिर खोलने की छूट देने के हफ्तेभर बाद भी मारुति सुजुकी, टाटा मोटर्स, टोयोटा और मर्सडीज बेंज जैसी कंपनियों का उत्पादन दोबारा शुरू करना बाकी है। इसकी प्रमुख वजह कंपनियों की आपूर्ति श्रृंखला का बाधित होना है। कंपनियों का कहना है कि देश के कई इलाकों में उनके आपूर्तिकर्ता और डीलर अभी भी लॉकडाउन (बंद) में हैं। इसलिए कलपुर्जा विनिर्माता से लेकर डीलर तक जल्द से जल्द दोबारा खोले जाने की जरूरत है। इस संबंध में मारुति सुजुकी इंडिया के प्रवक्ता ने कहा कि अभी उनका उत्पादन शुरू नहीं हुआ है। पिछले हफ्ते हरियाणा सरकार ने कंपनी को मानेसर संयंत्र स्थित दोबारा शुरू करने की अनुमति दे दी थी। लेकिन कंपनी के चेयरमैन आर. सी. भार्गव ने कहा था कि जब कंपनी लगातार वाहनों उत्पादन और बिक्री करने में सक्षम होगी, तभी वह कारखाने को चालू करेगी।

    18:08 (IST)27 Apr 2020
    हिमाचल के मुख्यमंत्री ने तीन मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रखने का पक्ष लिया

    हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को कहा कि तीन मई के बाद भी लॉकडाउन जारी रहना चाहिए ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। यह जानकारी एक सरकारी प्रवक्ता ने दी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इससे पहले मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस कर देश में कोविड-19 से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की। महामारी को रोकने के लिए देश में 25 मार्च से 40 दिनों के लिए लॉकडाउन लगा है। लॉकडाउन को बढ़ाने का समर्थन करते हुए ठाकुर ने कहा कि लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध जारी रहना चाहिए क्योंकि कोविड-19 के मामले अब भी सामने आ रहे हैं।

    17:48 (IST)27 Apr 2020
    एक ओर लॉकडाउन चाहती है सरकार, वहीं दूसरी ओर दुकानें फिर से खोलने के लिये आदेश जारी कर रही है

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोहल्ले की दुकानें खोलने के गृह मंत्रालय के आदेश पर कहा "केन्द्र सरकार लॉकडाउन को लेकर अलग-अलग बयान दे रही है, कोई स्पष्टता नहीं है। सरकार एक ओर लॉकडाउन लागू करना चाहती है, वहीं दूसरी ओर दुकानें फिर से खोलने के लिये आदेश जारी कर रही है। अगर चाय बागान के कर्मचारियों को पारिश्रमिक नहीं मिल रहा, मनरेगा कर्मियों को काम नहीं मिल रहा तो केन्द्र सरकार को इसकी जिम्मेदारी उठानी चाहिए।"

    17:31 (IST)27 Apr 2020
    मेघालय लॉकडाउन को आगे बढ़ाना चाहता है

    मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनरोड संगमा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए बंद को तीन मई के बाद भी राज्य में लागू रखना चाहता। उन्होंने बैठक के तुरंत बाद ट्वीट कर कहा कि तीन मई के बाद मेघालय में संक्रमण से मुक्त इलाके के रूप में चिन्हित किए गए 'ग्रीन जोन' में ही लॉकडाउन से आंशिक छूट दी जाएगी।

    16:48 (IST)27 Apr 2020
    तीन मई से आगे बढ़ाया जाना चाहिए लॉकडाउन

    गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार की राय है कि तटीय राज्य में लॉकडाउन को तीन मई से आगे बढ़ाया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्रियों की वीडियो कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के बाद सावंत ने संवाददाताओं से कहा कि गोवा की सीमाएं सील रहेंगी, जबकि राज्य में आर्थिक गतिविधियां धीरे-धीरे फिर से शुरू होंगी। उन्होंने कहा कि गोवा सरकार प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर लॉकडाउन को तीन मई से आगे बढ़ाने का आग्रह करेगी। गोवा में अब तक कोरोना वायरस के सात मामले सामने आए हैं और इस संक्रामक बीमारी से सभी मरीज ठीक हो गए हैं।

    16:14 (IST)27 Apr 2020
    कोविड-19 का जीवन के विभिन्न पहलुओं पर प्रभाव आने वाले महीनों में दिखेगा

    प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये 25 मार्च को घोषित किये गये लॉकडाउन के प्रभाव की समीक्षा के लिये सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बैठक की। बैठक में 14 अप्रैल से तीन मई तक के लिये जारी लॉकडाउन के दूसरे चरण में संक्रमण की स्थिति और चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन हटाने के उपायों पर चर्चा हुयी।  बैठक में मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा कि कोविड-19 का जीवन के विभिन्न पहलुओं पर प्रभाव आने वाले महीनों में दिखेगा। उन्होंने कहा कि इससे बचने के लिये इस्तेमाल हो रहे मास्क और चेहरा ढकने वाला गमछा आदि अब जीवन का हिस्सा बन जायेंगे।  उन्होंने मुख्यमंत्रियों से कहा कि कोरोना संकट से निपटने के लिये राज्यों के प्रयास, संक्रमण से प्रभावित रेड जोन इलाकों को कम प्रभाव वाले ऑरेंज जोन में और फिर संक्रमण मुक्त ग्रीन जोन में तब्दील करने पर केन्द्रित होने चाहिये।

    15:44 (IST)27 Apr 2020
    हजारों लोगों के जीवन की रक्षा की जा सकी

    सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार बैठक में मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कहा, ‘‘हमें कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई के साथ अर्थव्यवस्था को भी समान रूप से अहमियत देने की जरूरत है।’’ प्रधानमंत्री ने कोरोना संक्रमण रोकने की दिशा में लॉकडाउन को सार्थक उपाय बताते हुये कहा कि इसके सकारात्मक परिणाम मिले हैं और पिछले, लगभग डेढ़ महीने में लॉकडाउन के दौरान देश में हजारों लोगों के जीवन की रक्षा की जा सकी है।

    15:19 (IST)27 Apr 2020
    देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाने पर भी समान रूप से ध्यान देने की जरूरत

    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिये चलाये जा रहे देशव्यापी अभियान को जारी रखने के साथ, देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ बनाने पर भी समान रूप से ध्यान देने की जरूरत पर बल दिया। मोदी ने कोरोना के संक्रमण की मौजूदा स्थिति और संक्रमण पर नियंत्रण के लिये लागू किये गये 40 दिन के लॉकडाउन से देश को चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर सोमवार को राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग बैठक में यह बात कही।

    14:54 (IST)27 Apr 2020
    आने वाले महीनों में कोविड-19 असर दिखाता रहेगा, मास्क जिंदगी का हिस्सा होंगे

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों से कहा, हमें अर्थव्यवस्था को अहमियत देनी होगी। साथ-साथ कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई को जारी रखना होगा। पीएम ने कहा कि लॉकडाउन के सकारात्मक नतीजे आए हैं। देश पिछले डेढ़ महीने में हजारों जानें बचा पाया है। आने वाले महीनों में कोविड-19 असर दिखाता रहेगा, मास्क जिंदगी का हिस्सा होंगे। राज्यों की कोशिश कोविड-19 रेड जोन को ऑरेंज जोन और फिर ग्रीन जोन में बदलने की होनी चाहिए।

    14:40 (IST)27 Apr 2020
    बैठक में ये लोग रहे मौजूद

    बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और स्वास्थ्य मंत्री डा. हर्षवर्धन के अलावा प्रधानमंत्री कार्यालय एवं अन्य संबद्ध मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारियों ने शिरकत की। इसके अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन सहित विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी बैठक में हिस्सा लिया।

    14:25 (IST)27 Apr 2020
    मुख्यमंत्रियों के साथ चार बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक

    कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च से दो चरण में लॉकडाउन लागू किया गया है। देश में कोरोना संकट की शुरुआत के बाद 22 मार्च से अब तक प्रधानमंत्री मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चार बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक कर चुके हैं।

    14:04 (IST)27 Apr 2020
    लॉकडाउन से चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर विचार

    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण की देश में मौजूदा स्थिति और इस कारण 25 मार्च से लागू देशव्यापी बंद (लॉकडाउन) सहित अन्य विषयों पर सोमवार को विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक कर चर्चा की। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बैठक में देश को लॉकडाउन से चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर भी विचार विमर्श हुआ।

    Next Stories
    1 Coronavirus पर क्या सही आंकड़े आ रहे देश के सामने? ICMR और NCDC के डेटा में फर्क, मिले 1,087 अधिक मरीज
    2 India Coronavirus: कोरोना पर दिल्ली की स्थिति चिंताजनक! 4.11% स्वास्थ्यकर्मचारी कोरोना संक्रमित; 100 हो चुके हॉटस्पॉट्स