ताज़ा खबर
 

कोरोना के चलते हरियाणा में बढ़ी पाबंदियां, महाराष्ट्र सरकार ने दिए लॉकडाउन लगाने के संकेत

कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी होने के बावजूद लोग सोमवार को कानपुर की फूल मंडी में कोरोना के नियमों का उल्लंघन करते दिखे। बता दें कि उत्तर प्रदेश में कल कोरोना के 15,353 नए मामले सामने आए थे।

Coronavirus, India News, National Newsकोरोना के बढ़ते मामलों के बीच जम्मू की सब्जी मंडी में सोमवार को भारी भीड़ देखने को मिली। (फोटोः पीटीआई)

देशभर में एक बार फिर से कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। इसी बीच कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर नियंत्रण के लिए हरियाणा सरकार ने सोमवार रात से नाईट कर्फ्यू का ऐलान किया है। कोरोना की दूसरी लहर में सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में राज्य सरकार ने लॉकडाउन लगाने के संकेत दे दिए हैं। इसके अलावा दिल्ली में भी सरकार ने कोरोना पर काबू पाने के लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

सोमवार को हरियाणा सरकार के द्वारा जारी आदेश के अनुसार राज्य के हर जिलों में रात 9 बजे से लेकर सुबह के 5 बजे तक कर्फ्यू लगा रहेगा। पिछले दस दिनों में हरियाणा में कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या में दोगुना इजाफा हुआ है। 1 अप्रैल को हरियाणा में एक्टिव कोरोना केसों की संख्या सिर्फ 10300 थी। जबकि 11 अप्रैल को कोरोना के एक्टिव केसों की संख्या करीब 20,000 से ज्यादा दर्ज की गई। 

वहीं महाराष्ट्र सरकार के मंत्री असलम शेख ने केंद्र सरकार पर महाराष्ट्र में वैक्सीन की आपूर्ति में अनदेखी  का आरोप लगाया है। असलम शेख ने कहा कि अगर महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मामले हैं तो सबसे कम वैक्सीन क्यों दी जा रही है।महाराष्ट्र में जहां मामले इतने बढ़ रहे हैं वहां रेमडेसिवीर नहीं मिल रही है लेकिन गुजरात में भाजपा के कार्यालय में रेमडेसिवीर बांटी जा रही है। इसके अलावा असलम शेख ने कहा कि सरकार आने वाले 2-3 दिन में लॉकडाउन लगाने का फैसला ले सकती है। साथ ही उन्होंने कहा कि बढ़ते कोरोना के मामलों पर नियंत्रण पाने के लिए लॉकडाउन ही एकमात्र रास्ता है। 

इसके अलावा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को  #COVID19 स्थिति पर एक समीक्षा बैठक की। उन्होंने निर्देश दिया कि अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाई जाए। साथ ही यह भी निर्णय लिया गया कि कई सरकारी और निजी अस्पतालों को एक बार फिर से पूरी तरह से कोविड अस्पताल बनाया जाएगा। बकौल सीएम, “मैंने एक समीक्षा बैठक ली। हम निजी और सरकारी अस्पतालों में बेड बढ़ाने के लिए कई कदम उठा रहे हैं। हमारी सभी से अपील है कि कृपया कोरोना प्रोटोकॉल्स का पालन करें। बेवजह में अस्पताल न भागें। अगर आप योग्य हैं, तो वैक्सीन लगवाएं।”

भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,68,912 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,35,27,717 हुई। 904 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,70,179 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 12,01,009 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,21,56,529 है। देश में कुल 10,45,28,565 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है। इसी बीच, खबर है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज दोपहर 12 बजे एक बैठक करेंगे।

Next Stories
1 देश में कोरोना विषाणु संक्रमण: चौबीस घंटे में पहली बार मामले डेढ़ लाख पार
2 कोरोना का दंश: यूपी, बिहार में 800 फीसद से ज्यादा बढ़े मामले
3 जगन्नाथ स्वामी पर हुईं गलत बातें तो पूर्व मुख्यमंत्री ने लिखी थी किताब, हिंदी में विमोचन कर राजनीतिक फायदा तलाश रही बीजेपी?
यह पढ़ा क्या?
X