ताज़ा खबर
 

Corona Crisis: सड़कों पर दर्द झेल रहे मजदूरों पर बीजेपी सांसद की अ‍म‍ित शाह को च‍िट्ठी- ये हमारे ही लोग हैं

सांसद ने पत्र में शाह से अनुरोध किया है कि वे प्रवासी श्रमिकों के लिए पीएम-केयर फंड से 1,000 करोड़ रुपये आवंटित करें और ये पैसे मजदूरों के परिवहन पर खर्च किया जाए।

Corona crisis: मजदूरों के हालात पर बीजेपी सांसद ने अमित शाह को लिखी च‍िट्ठी।

कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसके प्रकोप को रोकने के लिए देश को लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन में रोजगार ना होने की वाजह से प्रवासी मजदूर पैदल ही अपने घरों के लिए निकाल गए हैं। मजदूरों की दयनीय तस्वीरें सोशल मीडिया पर रोज वायरल हो रही हैं। ‘द टेलीग्राफ’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक इसे देखते हुए भाजपा के एक सांसद ने गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखा है। सांसद ने पत्र में शाह से अनुरोध किया है कि वे प्रवासी श्रमिकों के लिए पीएम-केयर फंड से 1,000 करोड़ रुपये आवंटित करें। उन्होंने लिखा कि यह पैसा मजदूरों के परिवहन पर खर्च किया जाए क्योंकि सैकड़ों किलोमीटर पैदल चलने वाले मजदूरों की छवि राजनीतिक रूप से पार्टी को नुकसान पहुंचा सकती है।

राज्यसभा सदस्य ओम प्रकाश माथुर ने लिखा ‘ये सब हमारे ही लोग हैं। प्रवासियों की पीड़ा गहन चर्चा का विषय बन गई है।’ पार्टी के सूत्रों का मानना है कि यह एक संकेत था कि इस बात का प्रतिकूल राजनीतिक प्रभाव हो सकता है।

Coronavirus Live update: यहां पढ़ें कोरोना वायरस से जुड़ी सभी लाइव अपडेट….

सांसद ने आगे लिखा “आपको पता होना चाहिए कि पिछले कई दिनों से, हम टीवी पर देख रहे हैं और समाचार पत्रों में पढ़ रहे हैं कि प्रवासी श्रमिक एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए सैकड़ों किलोमीटर पैदल चल रहे हैं। इसलिए, मैं आपसे अपील करता हूं कि प्रवासियों के कल्याण के लिए पीएम-केयर फंड से आवंटित 1,000 करोड़ रुपये का उपयोग उनके लिए परिवहन की व्यवस्था कर उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाने के लिए किया जा सकता है।”

PM-CARES फंड ट्रस्ट ने हाल ही में मजदूरों की देखभाल के लिए 1000 करोड़ रुपये का ऐलान किया था। इस राशि का उपयोग प्रवासी कामगारों के लिए परिवहन, आश्रय, चिकित्सा और भोजन पर खर्चो को पूरा करने के लिए किया जाएगा।

बता दें कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है और बहुत तेजी से फैल रहा है। भारत में कोरोनावायरस के मामले शनिवार तक 85 हजार का आंकड़ा पार कर चुके हैं। देश में अब 52 हजार से भी ज्यादा एक्टिव केस हैं, जबकि 2753 लोगों की मौत हुई है। एक अच्छी खबर यह है कि अब तक कुल मरीजों में से 30 फीसदी से ज्यादा यानी करीब 30 हजार लोग ठीक हो कर घर लौट चुके हैं। पिछले 24 घंटे में ही 2277 मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं, जो कि अब तक का रिकॉर्ड है।

Coronavirus/COVID-19 और Lockdown से जुड़ी अन्य खबरें जानने के लिए इन लिंक्स पर क्लिक करें: शराब पर टैक्स राज्यों के लिए क्यों है अहम? जानें, क्या है इसका अर्थशास्त्र और यूपी से तमिलनाडु तक किसे कितनी कमाई । शराब से रोज 500 करोड़ की कमाई, केजरीवाल सरकार ने 70 फीसदी ‘स्पेशल कोरोना फीस’ लगाई । लॉकडाउन के बाद मेट्रो और बसों में सफर पर तैयार हुईं गाइडलाइंस, जानें- किन नियमों का करना होगा पालन । भारत में कोरोना मरीजों की संख्या 40 हजार के पार, वायरस से बचना है तो इन 5 बातों को बांध लीजिये गांठ…। कोरोना से जंग में आयुर्वेद का सहारा, आयुर्वेदिक दवा के ट्रायल को मिली मंजूरी ।

Next Stories
1 ब‍िहार से पत्‍नी का फोन- नहीं रहा बच्‍चा, द‍िल्‍ली से पैदल निकला पिता, पुल‍िस ने रोक लिया, सड़क पर रोते गुजारे तीन दिन
2 24 प्रवासी मजदूरों की मौत पर योगी सरकार सख्त, दो एसएचओ सस्पेंड; SSP, IG और ADG से रिपोर्ट तलब
3 BJP शासित हिमाचल प्रदेश में पांच पत्रकारों पर 14 FIR, प्रवासी मजदूरों पर फेक न्यूज देने के आरोप
यह पढ़ा क्या?
X