ताज़ा खबर
 

‘तांडव’ पर यूपी के मंत्री बोले- ठोक देने वाली मानसिकता ठीक नहीं, नासिर अब्दुल्ला ने कहा- अंकल शांत हो जाओ

एंकर रोहित सरदाना ने अभिनेता नासिर अब्दुल्ला से पूछा कि बार-बार एक ही धर्म को क्यों टार्गेट किया जाता है फिल्मों में, बॉलीवुड तो सेक्युलर है न। इसपर अभिनेता ने कहा "मेरे से ऐसे पूछ रहे हैं जैसे इसका जवाब मेरे पास होना चाहिए, मेरे पास नहीं है। शायद इस्लाम का इसलिए नहीं दिखाते डरते हैं कि दिखाएंगे तो ठोक देंगे।"

web series tandav controversy, web series tandav, Tandav Makers Agree To Changes, tandav director ali abbas zafar, Tandav content Changes,यूपी सरकार के मंत्री मोहसीन रजा और फिल्म अभिनेता नासिर अब्दुल्ला।

सैफ अली खान-डिंपल कपाड़िया की वेब सीरीज ‘तांडव’ को लेकर इन दिनों विवाद हो रहा है। इस वेब सीरीज के कुछ सीन को लेकर लोग आपत्ति जाता रहे हैं। उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में इसका जमकर विरोध हो रहा है। कुछ लोगों ने निर्देशक अली अब्बास जफर के खिलाफ एफ़आईआर भी दर्ज़ कराई है। इसे लेकर टीवी चैनल ‘आज तक’ के शो ‘दंगल’ में एक डिबेट हो रही थी। इस दौरान फिल्म अभिनेता नासिर अब्दुल्ला और यूपी सरकार के मंत्री मोहसीन रजा के बीच बहस देखने को मिली।

एंकर रोहित सरदाना ने अभिनेता नासिर अब्दुल्ला से पूछा कि बार-बार एक ही धर्म को क्यों टार्गेट किया जाता है फिल्मों में, बॉलीवुड तो सेक्युलर है न। इसपर अभिनेता ने कहा “मेरे से ऐसे पूछ रहे हैं जैसे इसका जवाब मेरे पास होना चाहिए, मेरे पास नहीं है। शायद इस्लाम का इसलिए नहीं दिखाते डरते हैं कि दिखाएंगे तो ठोक देंगे।” अभिनेता ने कहा कि हिन्दू धर्म कभी डूब नहीं सकता। इस वक़्त यह सबसे ऊंचे औदे पर है।”

इसपर बीजेपी नेता ने बीच में बोला “वाह क्या जवाब आया है कि दिखाएंगे तो ठोक देंगे। अपने ये क्यों बोला। क्या आपको ऐसा बोल्न चाहिए?” इसपर नासिर अब्दुल्ला ने कहा “मोहसीन बाबू, मोहसीन अंकल, भाई मेरे बेटे ठंड रखो, शांत हो जाओ। शांत हो जाओ बेटा, शांत हो जाओ। मुझे बोलने दो।” इसपर मोहसीन रजा ने कहा “ऐसे कैसे ठोक देंगे, कोई आपके मेरे धर्म के बारे में बोलेगा तो ठोक दोगे। ये क्या बात हुई।”

बता दें विवाद को देखते हुए डायरेक्टर अली अब्बास जफर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर बिना किसी शर्त के माफी मांग ली थी। अली अब्बास जफर ने कहा कि वेब सीरीज में बदलाव करने का निर्णय लिया है। अली अब्बास जफर ने ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘हम देश के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हैं। हमारा किसी भी व्यक्ति, जाति, समुदाय, नस्ल, धर्म या धार्मिक विश्वासों की भावनाओं, किसी संस्था, राजनीतिक दल या व्यक्ति का, जीवित या मृत का भावनाओं को आहत करने का इरादा नहीं था। तांडव की कास्ट और क्रू तरफ से व्यक्त की गई चिताओं को संज्ञान में लेते हुए बेब सीरीज में बदलाव करने का निर्णय लिया गया है। हम सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को इस मामले में मार्गदर्शन करने और समर्थन देने के लिए धन्यवाद करते हैं। हम एक बार फिर माफी मांगते हैं कि अगर किसी व्यक्ति की भावनाएं आहत हुई हैं।’

Next Stories
1 दोस्त की ढाई साल की बेटी से रेप कर हत्या, तीन महीने में ही मिली मौत की सजा
2 कांग्रेस नेता से बोले शहनवाज़ हुसैन, हम फलदार, आपकी सिर्फ झाड़ी बची है, इतना क्यों तने हैं
3 ट्रैक्टर के साथ महिलाएं संभालेंगी किसान आंदोलन की बागडोर
ये पढ़ा क्या?
X