ताज़ा खबर
 

पठानकोट हमला: पांचों आतंकी ढेर, मिशन हुआ खत्‍म, पीएम मोदी ने कहा- जवानों पर गर्व

आर्मी की वर्दी में आए आतंकी सुबह 3 बजकर 10 मिनट पर एयरफोर्स बेस के अंदर घुसे। आतंकी फिदायीन हमले के इरादे से ही आए थे। वे फायरिंग करते हुए घुसे थे।

एयर फोर्स बेस के चारों ओर बैरीकेडिंग कर दी गई है।

यहां वायुसेना के एक स्‍टेशन पर हुए हमले के बाद आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ खत्‍म हो चुकी है। पाचों आतंकियों को खत्‍म कर दिया गया है। मिशन खत्‍म होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जवानों को बधाई दी। साथ ही शहीद होने वाले सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि भी दी। मोदी ने कहा कि उन्‍हें अपने जवानों और सुरक्षाकर्मियों पर गर्व है। बता दें कि  कुछ हथियारबंद पाकिस्तानी आतंकियों के एक ग्रुप ने शनिवार तड़के यहां वायु सेना के एक स्टेशन पर हमला कर दिया था। मुठभेड़ में तीन सुरक्षाकर्मियों की जान चली गई। संदेह है कि ये आतंकवादी पाक स्थित आतंकी गुट जैश ए मोहम्मद के थे ।

पाकिस्‍तान ने जताया दुख

इस बीच, रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने तीनों सेना के प्रमुखों और एनएसए अजीत डोभाल से मुलाकात की। रक्षामंत्री ने मामले पर ब्रीफिंग ली। वहीं, पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय ने बयान जारी करके कहा, ”पाकिस्‍तान पठानकोट में हुए आतंकी हमले की निंदा करता है। इस हमले में कई कीम‍ती जिंदगियां खत्‍म हो गईं। हमारी संवेदनाएं भारत सरकार और देश की जनता के साथ है।” (पठानकोट आतंकी हमला: PM मोदी की पाकिस्‍तान पॉलिसी पर उठ रहे हैं ये गंभीर सवाल)

live updates: 

आतंकियों ने हमले से पहले पाकिस्तान फोन किया था। बता दें कि गुरुवार रात एक पुलिस अफसर की आतंकियों ने किडनैपिंग की थी। तब से पंजाब हाई अलर्ट पर था। इस बीच, दिल्ली में राजनाथ सिंह और मनोहर पर्रिकर की मौजूदगी में मीटिंग हो रही है।

 

पठानकोट अटैक के बाद मुंबई में भी सिक्युरिटी बढ़ाई गई।

राजनाथ सिंह ने कहा नाकाम रहा आतंकी हमला। खुफिया जानकारी पहले से होने से कम नुकसान हुआ।

राहुल गांधी ने की पठानकोट हमले की निंदा।

लालू बोले- ‘ये फॉरेन पॉलिसी पर सवाल उठाने का वक्त नहीं है। सेना का साथ दें’

घटनास्थल पर जाएंगे प्रकाश सिंह बादल।

पंजाब के सीएम प्रकाश सिंह बादल ने कहा, ‘पहले से इनफॉर्मेशन होने से कम नुकसान हुआ।’

सेना ने ड्रोन की मदद से सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

जिन जगहों पर आतंकियों के छुपे होने का शक है वहां हेलिकॉप्टर से फायरिंग की जा रही है।

आतंकियों की संख्‍या के बारे में अभी तक स्थिति स्‍पष्‍ट नहीं हो पाई है। सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है।  दो हेलिकॉप्टर घटनास्थल पर निगरानी कर रहे हैं। देखें हमले की तस्‍वीरें: बहावलपुर से भारत की सीमा में घुसे आतंकी, दीवार फांदकर पहुंचे एयरबेस में हेलिकॉप्टर से सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एयरबेस के अंदर तीन और आतंकी हो सकते हैं। एयरबेस के पास के गुरुद्वारे पर ग्रेनेड हमले की खबर। पठाकोट में आतंकी हमले के खिलाफ स्‍थानीय निवासियों ने किया विरोध प्रदर्शन

कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा, मोदी की नवाज शरीफ से मुलाकात के हफ्ते बाद इस तरह का हमला एक बड़ा सवाल खड़ा करता है।’

होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने कहा, ‘हमले का उचित जवाब दिया जाएगा।’ आतंकी हमले में शहीद होने वाले जवानों की संख्या तीन हुई। एयरबेस के अंदर से विस्फोट की दो तेज आवाज सुनाई दी। एयरफोर्स स्टेशन पर फिर से फायरिंग शुरू हुई।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एनकाउंटर अभी खत्म नहीं हुआ है। 5वें आतंकी की तलाश जारी है।

नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी(NIA) की टीम पठानकोट पहुंची।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले का इनपुट कल ही मिल गया था। NSG कमांडोज की टीम भी रात में ही पहुंच गई थी।

आर्मी की वर्दी में आए आतंकी सुबह 3 बजकर 10 मिनट पर एयरफोर्स बेस के अंदर घुसे।

आतंकी फिदायीन हमले के इरादे से ही आए थे। वे फायरिंग करते हुए घुसे थे।

बताया जाता है कि दो दिन पहले ही आतंकियों ने घुसपैठ की थी।

गोवा से दिल्ली लौटेंगे डिफेंस मिनिस्टर मनोहर पर्रिकर
बड़े हमले की तैयारी करके आए हैं आतंकी।

पठानकोट के एमएलए अश्वनी शर्मा के कहा, ‘दो आतंकियों को मार गिराया गया है। हमारी ओर के कुछ लोग घायल हुए हैं।’

एयफोर्स के छह जवान घायल हुए हैं।

आतंकियों की मोबाइल लोकेशन से शक जताया जा रहा है कि ये वही आतंकी हो सकते हैं, जिन्होंने 31 दिसंबर को एसपी को किडनैप किया था।

आतंकियों का संबंध लश्कर-ए-तैयबा से बताया जा रहा है।

जम्‍मू-कश्‍मीर के पूर्व सीएम उमर अब्‍दुल्‍ला ने कहा कि पाकिस्‍तान के साथ संबंधों को आगे बढ़ाने की राह में पीएम मोदी के सामने यह हमला पहली चुनौती है।

दिल्ली में अफसरों की इमरजेंसी मीटिंग शुरू हुई।

एयरफोर्स बेस के अंदर एक बिल्डिंग में मौजूद हैं आतंकी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App