ताज़ा खबर
 

राज्यसभा में गरमाया कश्मीर मुद्दा- जम्हूरियत, कश्मीरियत की बातें अटलजी के मुंह से अच्छी लगती हैं, औरों के नहीं

गुलाम नबी आजाद ने अटलजी की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा।
Author नई दिल्ली | August 10, 2016 15:23 pm
कश्मीर मुद्दे पर चर्चा के दौरान बोलते राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद (ANI PHOTO)

जम्मू-कश्मीर में हिजुबल कमांडर बुरहान वानी के मारे जाने के बाद भड़की हिंसा लगातार 33वें दिन भी जारी है। इसे लेकर बुधवार को राज्यसभा में चर्चा शुरू हई। राज्यसभा में इस मुद्दे पर मानसून सेशन में दूसरी बार चर्चा हो रही है। सोमवार को संगठित विपक्ष ने इस मुद्दे पर चर्चा की मांग की थी। सरकार के चर्चा की बात मानने पर विपक्ष ने पीएम मोदी को संसद मेें चर्चा के दौरान शामिल रहने की मांग उठाई। चर्चा के दौरान कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने अटलजी की तारीफ करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा।

चर्चा शुरू करते हुए राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कश्मीर  मुद्दे पर चर्चा करवाए जाने के लिए गृह मंत्री राजनाथ सिंह का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि दलित मुद्दे पर हमने संसद में प्रधानमंत्री का बयान नहीं सुना, उनका व्यू हमें तेलंगाना में सुनने को मिला। हम मांग करते हैं कि पीएम मोदी संसद में कश्मीर और दलित मुद्दे पर बयान दें। उन्होंने कहा कि कश्मीर से सिर्फ उसकी खूबसूरती के लिए प्यार नहीं करें, कश्मीर से उसकी जनता के लिए प्यार करें, उन लोगों और बच्चों से प्यार करें जिन्होंने प्रदर्शन में अपनी आंखें गवाई।

गुलाब नबी आजाद ने कहा कि आतंकी, आतंकी होता है, चाहे वो कश्मीर का हो या पंजाब का या फिर आईएसआईएस का। क्शीमर के सभी लोग आतंककवाद से पीड़ित है। कईयों ने आंतकवाद के कारण अपनी जान गंवा दी। कश्मीरियत का खात्मा पेलेट गन के जरिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जमूरियत, इंसानियत और कश्मीरियत का पैलेट गन से कत्ल किया जा रहा है। आजाद ने कहा कि कुछ बातें अटल जी की ही जुबान से ही अच्छी लगती हैं, दूसरों की जुबान से नहीं।

आजाद ने कहा कि जम्मूू-कश्मीर में कर्फ्यू लगा हुआ है, बहुत से लोग घायल है कई लोगों ने अपनी जान गंवाई है। संसद चालू हे, हम सबको उनका दर्द समझने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि ऑल पार्टी डेलीगेशन जम्मू-कश्मीर भेजे जाने और ऑल पार्टी मीटिंग की जरुरत है।

राज्यसभा में तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि बुहरान वानी सड़क से ज्यादा खतरनाक इटरनेट पर था। वह जिंदा रहने से ज्यादा खतरनाक मरने के बाद हो गया है। ये जरुरी है ऐसे समय में कश्मीर की जमीन और कश्मीर के लोगों को अलग न समझा जाए। वहीं जेडीयू के सांसद शरद यादव ने कहा कि कश्मीर हमसे गुस्सा है, उसे प्यार के साथ वापस लाना चाहिए वरना इतिहास हमें माफ नहीं करेगा। राज्यसभा की कार्यवाही को 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App