ताज़ा खबर
 

राकेश टिकैत के साथी बोले- विदेशी फंडिंग खत्म हो गई, मिठाई बांटो, पैसे के लेनदेन पर होने लगी बहस

भारतीय किसान यूनियन लोकशक्ति के राष्ट्रीय अध्यक्ष मास्टर श्योराज सिंह ने कहा कि आंदोलन के लिए अब विदेश फंडिंग नहीं मिल रहा है इसलिए किसान नेताओं के पीछे कोई नहीं है।

Farmers protest, rakesh tikaitबरनाला में किसान मजदूर रैली में जुटी भारी भीड़। फोटो- पीटीआई

किसान पिछले ढाई महीने से ज्यादा से दिल्ली के बॉर्डर पर जमे हुए हैं। अब आपस में ही कई किसान नेताओं ने एक दूसरे पर छींटाकशी शुरू कर दी है। भारतीय किसान यूनियन (लोकशक्ति) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मास्टर श्योराज सिंह ने कहा है कि उनके पास विदेशी फंडिंग खत्म हो गई है। उन्होंने कहा, खुशी मनाओ, मिठाई बांटो क्योंकि किसानों के पीछे अब कोई भीड़ नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि ट्रैक्टर रैली के लिए 3 लाख हजार रुपये देने पड़े थे।

ज़ी हिंदुस्तान के डिबेट कार्यक्रम में श्योराज सिंह ने कहा, राजपूतों में पृथ्वीराज भी पैदा हुए थे और जयचंद भी पैदा हुए थे। उन्होंने अपने पड़ोसी गांव के कुछ लोगों को यह कहा था। इसके बाद उधर से जवाब मिला कि मास्टर श्योराज जयचंद वाला काम कर रहे हैं और किसानों के साथ गद्दारी कर रहे हैं। ग्रेटर नोएडा के गांव बोल रहे किसान ने कहा, राकेश टिकैत के पास इतना पैसा कहां से आया।

गांव से एक और किसान नेता ने कहा, इनके पास 20 बीघे खेत था और आज करोड़ों की संपत्ति है। आप अपनी जांच करवाएं और राकेश टिकैत की जांच करवाएं। इसके बाद श्योराज सिंह ने आरोप लगाया कि किसान नेता ने 3 हजार रुपये लिए थे। इसके बाद दोनों में पैसों के लेनदेन को लेकर बहस शुरू हो गई। मास्टर श्योराज कहने लगे कि आप मंदिर पर आकर कसम खाएं कि आपने पैसे नहीं लिए।

मास्टर श्योराज सिंह ने कहा, ‘ये भोले के मंदिर पर सौगंध लेने के नाम पर लड़खड़ा गए। उन्हें भोले के मंदिर पर कसम खिलाओ। इनके साथ चार लोग हैं। हमारे साथ तो 50 लोग जाते हैं।’

टिकैत के बयान के विरोध में उतरे लोग

राकेश टिकैत के बयान पर भी लोग नाराज नजर आए। राकेश टिकैत के कहने पर लोग अपनी फसलों को बर्बाद करने लगे थे। एक शिकायतकर्ता ने कहा, ‘बाप कहता था कि खूब अन्न पैदा करो और विश्व को खिलाओ और बेटा कह रहा है कि फसल जलाओ। राष्ट्रीय प्रवक्ता ऐसी बात कह रहा है। अगर देश में अन्न की कमी होगी तो इसके लिए राकेश टिकैत जिम्मेदार होंगे।’

Next Stories
1 कोल स्मगलिंग केसः CBI टीम से पहले भतीजे अभिषेक के घर पहुंचीं CM ममता, सबको चौंकाया; बहू रुजिरा हैं टीम के रडार पर
2 कृषि कानूनः मोदी सरकार पर किसानों को भरोसा नहीं! पर टिकैत के भाई बोले- राजनाथ करेंगे बात तो 1 घंटे में हो जाएगी सुलह
3 ट्रैक्टर परेड हिंसा: जम्मू से DP ने लिया 2 किसान नेता को हिरासत में, पत्नी बोलीं- पुलिस ने उन्हें बुलाया था और…फिर फोन हो गया बंद
ये पढ़ा क्या?
X