ताज़ा खबर
 

केंद्र के चंगुल से बचने की फिराक में भगोड़ा विजय माल्या! UK में टिकने को दिया आदेवन

माल्या पर अब बंद हो चुकी उसकी कंपनी किंगफिशर एयलाइंस के संबंध में धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोप हैं।

Author नई दिल्ली | January 23, 2021 1:03 PM
vijay malya , london , indiaभगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या (फोटो – एक्सप्रेस आर्काइव )

भगोड़े कारोबारी विजय माल्या ने ब्रिटेन में ही रहने के लिए एक और विकल्प आजमाते हुए गृह मंत्री प्रीति पटेल के समक्ष गुहार लगाई है। लंदन के हाईकोर्ट में चल रहे दीवालिया मामले में शराब कारोबारी माल्या का प्रतिनिधित्व कर रहे वकील ने शुक्रवार को अदालत में इसकी जानकारी दी। ब्रिटेन की सुप्रीम कोर्ट ने माल्या को भारत सरकार को प्रत्यर्पित करने के खिलाफ दायर याचिका को पिछले साल अक्टूबर में खारिज कर दिया था। फिलहाल वह तब तक जमानत पर है जब तक पटेल उसे भारत प्रत्यर्पित करने के आदेश पर हस्ताक्षर नहीं कर देतीं।

माल्या पर अब बंद हो चुकी उसकी कंपनी किंगफिशर एयलाइंस के संबंध में धोखाधड़ी और धनशोधन के आरोप हैं। ब्रिटेन के गृह मंत्रालय ने इस संबंध में केवल इस बात की पुष्टि की है कि प्रत्यर्पण आदेश पर अमल किए जाने से पहले गोपनीय कानूनी प्रक्रिया चल रही है। इससे यह अटकलें लगाई जा रही हैं कि माल्या ने ब्रिटेन में शरण मांगी थी, जिसकी जानकारी की ब्रिटेन के गृह मंत्रालय ने ना तो पुष्टि की है और न ही इससे इनकार किया है। माल्या के बैरिस्टर फिलिप मार्शल ने अदालत में कहा, ‘प्रत्यर्पण की प्रक्रिया बरकरार है लेकिन वह (माल्या) अभी इसलिए यहां हैं क्योंकि उन्होंने यहां रहने के लिए एक और विकल्प आजमाते हुए गृह मंत्री प्रीति पटेल से गुहार लगाई है।

इधर केंद्र सरकार में सुप्रीम कोर्ट को बताया कि बैंकों का अरबों रुपए का कर्ज नहीं चुकाने के आरोपी भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को ब्रिटेन से भारत लाने के सभी प्रयास किए जा रहे हैं लेकिन इसमें कुछ बिन्दुओं पर चल रही कानूनी कार्यवाही की वजह से विलंब हो रहा है। माल्या किंगफिशर एयरलाइंस पर बैकों का नौ हजार करोड़ रुपए से भी अधिक बकाया राशि का भुगतान नहीं करने के मामले में आरोपी है।

जस्टिस उदय यू ललित और जस्टिस अशोक भूषण की पीठ से सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने विजय माल्या के प्रत्यर्पण की स्थिति के बारे में रिपोर्ट दाखिल करने के लिये कुछ समय देने का अनुरोध किया। इस पर पीठ ने इसकी सुनवाई 15 मार्च के लिए स्थगित कर दी। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सुनवाई शुरू होते ही केंद्र की ओर से मेहता ने विजय माल्या के ब्रिटेन से प्रत्यर्पण की स्थिति के बारे में विदेश मंत्रालय के अधिकारी देवेश उत्तम द्वारा उन्हें लिखा गया पत्र पीठ के साथ साझा किया।

Next Stories
1 राष्ट्रपति दफ्तर में ट्रंप का लगवाया ‘Diet Coke’ बटन बाइडन ने हटवाया, PepsiCo ने कहा- शायद उन्हें पेप्सी पसंद हो
2 USA: काम संभालते ही प्रेसीडेंट बाइडेन ने दिखाई तेजी, पूर्व राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप की कई अहम नीतियों को पलट दिया
3 मां के भरोसे ने मुझे पहुंचाया इस मुकाम पर, अमेरिका की नवनियुक्त उपराष्ट्रपति कमला हैरिस बोलीं- वे सदा दिल में रहेंगी
ये पढ़ा क्या?
X