ताज़ा खबर
 

दिल्ली में बाजार भाव से 25 फीसदी कम कीमत पर मिलेगी शराब, सरकार ने जारी किया यह आदेश

Delhi Liquor: आबकारी विभाग की ओर से एसओपी के मुताबिक, चारों निगम (सरकारी की एजेंसियां) कम से कम दो दुकानें तय करेंगी जिसमें से जब्त की गई एक में विदेशी शराब और दूसरे में भारत में बनी विदेशी शराब बेची जाएगी।

Author नई दिल्ली | Updated: December 8, 2019 6:16 PM
new delhiप्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

दिल्ली के लोग अब पहली बार जब्त की गई शराब को बाजार के भाव से 25 फीसदी कम कीमत पर खरीद सकते हैं। बता दें कि सरकार ने जब्त की गई शराब को बेचने के लिए आदेश जारी कर दिए हैं। अधिकारियों के अनुसार, बोतल पर लगे लेबल के जरिए शराब की पहचान की जा सकती है। इस लेबल पर ‘अधिकृत जब्त शराब’ लिखा होगा। एक मोटे अनुमान के मुताबिक, आबकारी विभाग हर साल शराब की ढाई लाख से ज्यादा बोतलें जब्त करता है। गौरतलब है कि वित्त वर्ष 2018-19 में 15 करोड़ रुपए की शराब जब्त की गई थी।

प्रयोगशालाओं में जांच के बाद बेची जाएगी शराबः मामले में सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि विदेशी और भारत में बनी विदेशी शराब को आबकारी और पुलिस अधिकारियों की छापेमारी में जब्त किया गया था। ऐसी शराब की जब्ती के सात दिन के अंदर संबद्ध प्रयोगशालाओं में गुणवत्ता की जांच कराई जाएगी। इसके बाद फिर इसे बेच दिया जाएगा। बता दें कि अबतक जब्त की गई शराब को कानूनी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद सरकारी अधिकारियों की मौजदूगी में नष्ट कर दिया जाता है।

Hindi News Today, 08 December 2019 LIVE Updates: बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

बेचने के लिए दो दुकाने की जाएगी ठीकः आबकारी विभाग की ओर से एसओपी के मुताबिक, चारों निगमें (सरकारी की एजेंसियां) कम से कम दो दुकानें तय करेंगी जिसमें से जब्त की गई एक में विदेशी शराब और दूसरे में भारत में बनी विदेशी शराब बेची जाएगी। अधिकारी ने बताया कि दिल्ली ऐसा पहला शहर होगा जहां जब्त की गई शराब को नष्ट नहीं किया जाएगा। बता दें कि पहले चरण में आठ दुकानों को जब्त शराब को बेचने की इजाजत दी जाएगी।

असली शराब ही दोबारा बेची जाएगीः जब्त की गई शराब में हरियाणा और पड़ोसी राज्यों से तस्करी करके लाई गई शराब तथा बारों और रेस्तरां में बिना परमिट के परोसी जाने वाली शराब शामिल है। अगर प्रयोगशाला में पुष्टि होती है कि जब्त की गई शराब मानव के पीने के लिए सही नहीं है तो सहायक आयुक्त इसको नष्ट करने के लिए आदेश जारी करेंगे। अगर शराब ठीक निकली तो उन्हें ही बेचा जाएगा।

Next Stories
1 Delhi Fire: अनाज मंडी अग्निकांड पर बड़ा खुलासा! इस वजह से गई दर्जनों लोगों की जान
2 बीजेपी सांसद बोले- भ्रष्ट राजनेताओं की वजह से बढ़ रही रेप की घटनाएं, दुष्कर्म के आरोपी नेताओं को लगाया जाए ठिकाने
3 हिन्दू राष्ट्रवाद से थम जाएगी इकनॉमिक ग्रोथ, रघुराम राजन बोले- धार्मिक महापुरुषों की मूर्तियों से बेहतर मॉडर्न स्कूल, यूनिवर्सिटी बनाएं
ये पढ़ा क्या?
X