ताज़ा खबर
 

दिल्ली के इस मंदिर में प्रसाद में मिलती है विस्की, स्कॉच और बियर, गृह मंत्रालय से शिकायत

यहां भिखारियों से लेकर, बच्चों तक को शराब के नशे में झूमते देखा गया है, जो कि सुरक्षा के लिहाज से सही नहीं है।

दिल्ली में पुराने किले के पास स्थित प्राचीन भैरव मंदिर (फोटो सोर्स- यूट्यूब)

दिल्ली में एक ऐसा मंदिर भी है जहां भगवान को शराब चढ़ाई जाती है। सुनने में ये बात थोड़ी अजीब है, लेकिन दिल्ली में पुराने किले के पास स्थित प्राचीन भैरव मंदिर में भगवान को शराब चढ़ाई जाती है। यहां लोकल से लेकर इंटरनेशनल बियर, स्कॉच और विस्की तक भगवान भैरव को चढ़ाई जाती है, लेकिन सबसे बड़ी मुश्किल यह है कि यहां प्रसाद के रूप में चढ़ाई गई शराब लोगों को वितरित भी की जाती है और यहीं से असली समस्या शुरू होती है। यहां भिखारियों से लेकर, बच्चों तक को शराब के नशे में झूमते देखा गया है, जो कि सुरक्षा के लिहाज से सही नहीं है। विशेषकर महिलाओं की सुरक्षा पर ये स्थिति बड़ा खतरा पैदा कर सकती है।

ये समस्या शनिवार और रविवार को ज्यादा बढ़ जाती है, क्योंकि इन दिनों भारी संख्या में भक्त मंदिर के दर्शन करने आते हैं। शनिवार और रविवार को मंदिर परिसर में शराब की बोतलें जगह-जगह पर बिखरी हुई पाई जाती हैं। मंदिर की इस परंपरा पर सोशल फिल्ममेकर उल्हास पीआर ने गृह मंत्रालय से शिकायत की है।

उल्हास का कहना है, ‘ये शिकायत प्रगति मैदान के पास स्थित भैरव मंदिर में शराब के वितरण को लेकर है। यहां भक्त खुलेआम लोगों को शराब बांटते हैं और सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि छोटे बच्चे भी वह शराब लेते हुए दिखाई देते हैं। वे शराब लेने के लिए कतार में खड़े होते हैं। इस समस्या के समाधान के लिए जरूरी कदम उठाएं या फिर इस बारे में उचित कार्रवाई करने के लिए मेरा मार्गदर्शन करें।’उल्हास की शिकायत के जवाब में गृह मंत्रालय ने कहा कि अगर उन्हें मंदिर के अंदर और बाहर शराब वितरण को लेकर कोई शिकायत मिलती है तो कानून के तहत जरूरी कदम उठाए जाएंगे। इस मामले में यह कहा गया है कि उन्हें अभी तक लोगों को शराब वितरित किए जाने के मामले में कोई शिकायत नहीं मिली है। हालांकि इस मामले में सभी पेट्रोलिंग स्टाफ को जानकारी दे दी गई है।

मंदिर की दीवारों पर अंदर और बाहर बहुत से वार्निंग बोर्ड लगाने के बाद भी शराब वितरण बिना रुकावट जारी है। इंडिया टुडे के मुताबिक मंदिर के पास दुकान लगाने वाले रामानंद का कहना है, ‘यहां शराब चढ़ाई भी जाती है और बांटी भी जाती है। पुलिस द्वारा अनुमति देने से मना करने के बाद और पेट्रोलिंग के बाद भी शराब बांटी जाती है। भारी संख्या में भक्त अभी भी शराब बांटते हैं। यहां भारी संख्या में भिखारी हाथ में डिस्पोजल लिए शराब लेने के लिए कतार में लगे देखे जा सकते हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App