ताज़ा खबर
 

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ही नहीं बल्कि एशिया की 45 कंपनियों को पछाड़कर टॉप टेन में शामिल होगी एलआईसी

केंद्र सरकार एलआईसी का आईपीओ लेकर आने वाली है। जिसे भारत का ही नहीं बल्कि एशिया का सबसे बड़ा आईपीओ हो सकता है। जिसके बाद एलआईसी मार्केट कैप के मामले में कई कंपनियों को पीछे छोड़ देगी।

एलआईसी का आईपीओ आने के बाद कंपनी एशिया की 45 बडी कंपनियों को पीछे छोडद्य देगीा

कुछ दिन पहले हमने आपको बताया था कि एलआईसी का आईपीओ आते ही वो देश की सबसे बड़ी कंपनी बन जाएगी। अगर हम कहें क‍ि एलआईसी का आईपीओ आते ही वो एशिया की टॉप टेन कंपनियों में इकलौती भारतीय कंपनी होगी तो वो गलत नहीं होगा। वास्‍तव में मौजूदा समय में देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्‍ट्रीज एशिया की सबसे कंपनियों की लिस्‍ट में टॉप टेन में नहीं है। जबक‍ि रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी एशिया के सबसे अमीर आदमी है। आपको बता दें क‍ि एलआईसी के आईपीओ लाने की सरकार तैयारी कर रही है। अनुमान है क‍ि कंपनी का आर्इपीओ आते की उसका मार्केट वैल्‍यूएशन 270 अरब डॉलर के आसपास हो सकता है। जो‍क‍ि एशिया की टॉप 50 कंपनियों से ज्‍यादा है। जिसमें रिलायंस के साथ जापान की कंपनी टोयोटा, सॉफ्टबैंक और बैंक ऑफ चाइना जैसे नाम शामिल हैं।

ब्‍लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार एलआईसी का आईपीओ आने के बाद एलआईसी का मार्केट कैप 20 लाख करोड़ रुपए होने का अनुमान लगाया गया है। सरकार की ओर से इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। बैंकों का इंवीटेशन भेजने की तैयारी चल रही है। अगले साल 2022 की के शुरुआती महीनों में इसका आईपीइओ सबके सामने होने की उम्‍मीद है। जिसे एशिया का सबसे बड़ा आईपीओ भी माना जा रहा है।

एशिया की 45 कंपनियों को पछाड़ देगी एलआईसी? : एलआईसी के आईपीओ आने के बाद उसके मार्केट कैप जो अनुमान लगाया लगा है और वो सही हो जाता है तो वो एशिया की टॉप टेन कंपनियों में शामिल हो जाएगी। मार्केट कैप के लिहाज से मौजूदा समय में देश की कोई कंपनी टॉप टेन में शामिल नहीं है। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज 12 वें पायदान पर है। यहां तक क‍ि एलआईसी जापान की सबसे बड़ी ऑटो कंपनियों में से एक टोयोटा को भी पछाड़ सकती है, जोकि एशिया की 7 वीं सबसे बड़ी कंपनी हैा उसका मार्केट कैप 251.5 अरब डॉलर है। टॉप 10 में 7 चीन की कंपनियां हैं। पहले पायदान पर टेंसेंट 700 अरब डॉलर और दूसरी कंपनी अलीबाबा 630 अरब डॉलर शामिल हैं। जबक‍ि टॉप 3 में साउथ कोरिया सैमसंग है जिसका मार्केट कैप 500 अरब डॉलर है।

टॉप 50 में सिर्फ 5 कंपनियां ही शामिल : ग्‍लोबल डाटा की रिपोर्ट के अनुसार एशिया पैसेफि‍क की टॉप 50 कंपनियों में से 5 कंपनियां भारत की शामिल हैं। जिसमें रिलायंस इंडस्‍ट्रीज, टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज, एचडीएफसी बैंक लिमिटेड, हिंदुस्‍तान यूनीलीवर लिमिटेड और इंफोसिस का नाम शामिल है। वैसे 2022 तक एशिया पैसिफिक कंपनियों की रैंकिंग में बदलाव भी देखने को मिल सकता है। कंपनियों का मार्केट कैप शेयर बाजार की चाल पर निर्भर करता है।

Next Stories
1 WhatsApp में आया है नया फीचर, Voice Messages पर देगा बेहतर नियंत्रण, जानें कैसे करें इस्तेमाल
2 Delhi Public Library Recruitment 2021: दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी में करें आवेदन, सैलरी 40,000 रुपए महीने तक
3 420 दिनों में हर मिनट शेयर बाजार में हुई 30 नए निवेशकों को एंट्री, कर रहे हैं मोटी कमाई
ये पढ़ा क्या?
X