ताज़ा खबर
 

अरुण जेटली के परिवार ने पेंशन लेने से किया इनकार, इन कर्मचारियों के लिए करेगा डोनेट

जेटली की पेंशन के रूप में परिवार को सलाना करीब तीन लाख रुपए की राशि मिलती। जेटली के परिवार में उनकी पत्नी संगीता जेटली के अलावा बेटी सोनाली और बेटा रोहन हैं।

अरुण जेटली (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के परिजनों ने परिवार को मिलने वाली पेंशन सम्मानपूर्वक लेने से इनकार कर दिया है, इसके बदले में परिवार ने यह राशि राज्यसभा में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को देने की पेशकश की है। उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू को भेजे एक पत्र में परिवार ने अपील की कि पूर्व वित्त मंत्री जेटली की पेंशन उन कर्मचारियों को दान की जाए जिनकी सैलरी कम है। अब परिवार के इस फैसले के बाद पेंशन राज्यसभा में कम सैलरी वाले कर्मचारियों को दी सकती है। जेटली की पेंशन के रूप में परिवार को सलाना करीब तीन लाख रुपए की राशि मिलती। जेटली के परिवार में उनकी पत्नी संगीता जेटली के अलावा बेटी सोनाली और बेटा रोहन हैं। दोनों पिता की तरह वकील हैं और वकालत में ये जेटली परिवार की तीसरी पीढ़ी है। पूर्व वित्त मंत्री वकालत और राजनेता के साथ दिल्ली व जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष भी रहे।

उल्लेखनीय है कि केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार में महत्वपूर्ण भूमिका निभा चुके जेटली का लंबी बीमारी के चलते दिल्ली के एम्स में 24 अगस्त को निधन हो गया। सांस फूलने और बेचैनी की शिकायत के बाद उन्हें 9 अगस्त को उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। हॉस्पिटल ने एक बयान में कहा, ‘श्री अरुण जेटली के निधन की खबर गहरे दुख के साथ बतानी पड़ रही है। माननीय राज्यसभा सांसद और भारत सरकार में वित्त मंत्री रहे जेटली का निधन 24 अगस्त, 2019 को दोपहर 12:07 निधन हो गया।’

जेटली के निधन की खबर के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने गहरी संवेदनाएं व्यक्त कीं। जिस वक्त जेटली का निधन हुआ तब पीएम मोदी विदेशी दौरे पर थे। उन्होंने पूर्व वित्त मंत्री को श्रद्धांजलि देते हुए लगातार चार ट्वीट किए। एक ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘ ‘मैंने एक अहम दोस्त खो दिया है, जिन्हें दशकों से जानने का सम्मान मुझे प्राप्त था। मुद्दों पर उनकी समझ बहुत अच्छी थी। वो हमें अनेक सुखद स्मृतियों के साथ छोड़ गए। हम उन्हें याद करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Gandhi Jayanti 2019 Updates: गांधीजी ने ‘यंग इंडिया’ में लिखा था- हिंदू धर्म में ऐसे बहुत काम हैं जो मुझे पसंद नहीं
2 वैष्णो देवी के दर्शन को गए नवजोत सिंह सिद्धू से धक्कामुक्की, खिलाफ लगे नारे
3 गुजरात में हिंदू संगठनों में ही भिड़ंत! विश्व हिंदू परिषद और तोगड़िया का संगठन आमने-सामने
ये पढ़ा क्या?
X