पीएम मोदी पर तंज कस बोले लालू -देश बहुत पीछे चला गया, पटरी पर लाने में लगेंगे न जाने कितने साल

गुरुवार को पार्लियामेंट सेंटर में वैक्सीन लगवाने पहुंचे आरजेडी नेता ने कहा कि बेजे तेजस्वी यादव प्रतिभावान नेता और उनसे भी आगे जाएंगे।

RJD, Lalu Prasad Yadav
राजद नेता लालू प्रसाद यादव। (फाइल फोटो)

लंबे समय तक सक्रिय राजनीति से दूर रहने वाले राष्ट्रीय जनता दल नेता लालू प्रसाद यादव एक बार फिर सार्वजनिक रूप से राजनीति में सक्रिय हो गए हैं। गुरुवार को उन्होंने मीडिया से बात की और देश के हालात पर कड़ी टिप्पणी की। कहा कि देश बहुत पीछे चला गया है। इसको फिर से पटरी पर लाने में न जाने कितना वक्त लगेगा। वह गुरुवार को पार्लियामेंट सेंटर में वैक्सीन लगवाने गए थे।

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी के दिल्ली दौरे के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि दीदी अपना काम कर रही हैं। वह कोई बहस का मुद्दा नहीं है। बिहार के पूर्व सीएम और पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद यादव काफी समय जेल में रहने और बीमारी की वजह से अस्पताल में रहने के चलते मीडिया से दूर रहे। गुरुवार को उन्होंने मीडिया से बात की और कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा देश बहुत तेजी से पीछे जा रहा है और इसको फिर से पटरी पर लाने में वर्षों लग जाएंगे।

अपनी तबीयत के बारे में कहा कि लगातार सुधार हो रहा है। बहुत जल्द वह पटना का दौरा करेंगे। पुलिस के विधानसभा में घुसकर विधायकों को पीटने के मामले पर उन्होंने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में ऐसा कभी नहीं हुआ। बेटे तेजस्वी यादव के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह अपनी प्रतिभा से आगे बढ़ रहे हैं।

लालू प्रसाद यादव ने कहा कि नेता को कोई बनाता नहीं है। कहा कि “तेजस्वी यादव मुझसे भी आगे जाएंगे। वह अपनी मेहनत, प्रतिभा और योग्यता से खुद बन जाता है। सबमें अपना संस्कार होता है। उससे वह आगे बढ़ता है।

इससे पहले बुधवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की। पवार ने हिंदी में ट्वीट किया, “एक पुराने सहयोगी लालू प्रसाद यादव जी से मुलाकात की और उनका स्वास्थ्य पूछा। लालू जी से लंबे समय बाद मिल कर बहुत खुशी हुई।” बैठक के दौरान यादव की बेटी और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की सांसद मीसा भारती भी मौजूद थीं।

पवार और यादव संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन -1 और यूपीए -2 सरकारों में मंत्री थे। यादव ने 5 जुलाई को लंबे समय में अपनी पहली राजनीतिक बैठक को संबोधित किया था, जिसमें केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार और बिहार में नीतीश कुमार प्रशासन को उनकी “कई विफलताओं” के लिए और अपने बेटे तेजस्वी यादव के तहत क्षेत्रीय पार्टी के उज्ज्वल भविष्य की भविष्यवाणी की थी। वह कई बीमारियों से पीड़ित हैं और अपनी बेटी मीसा भारती के नई दिल्ली स्थित आवास पर उनका इलाज चल रहा है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट