ताज़ा खबर
 

लालू ने मोदी की नकल उतार नीतीश पर साधा निशाना, ‘मित्रों’ बोलकर पूछा ये सवाल

नीतीश कुमार को लेकर लालू ने कहा कि एक व्यक्ति की नृशंस हत्या करने व 302 के तहत हत्या के संगीन जुर्म में आरोपित नीतीश को CM बनते वक़्त अंतरात्मा ने पुकारा था या कुर्सीआत्मा ने?

Author नई दिल्ली। | July 31, 2017 6:14 PM
लालू प्रसाद यादव (photo source- India express archives photo)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के महागठबंधन से नाता तोड़ने और बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने के बाद से लालू प्रसाद यादव और उनकी पार्टी जेडीयू सुप्रीमो पर हमलावर है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने सोमवार को ट्वीट करके एक बार फिर नीतीश पर निशाना साधा। लालू ने अपने ट्वीट में लिखा- हम नहीं हत्या का गवाह on कैमरा मीडिया वाले को कह रहा है कि नीतीश ने गोली चलाई और मुख्यमंत्री बनने के बाद दबाव देकर केस को दबा दिया।” लालू ने प्रधानमंत्री मोदी की नकल करते हुए लिखा- मित्रों, क्या हत्या जैसे संगीन जुर्म में आरोपित मुख्यमंत्री को कुर्सी पर बैठने का नैतिक अधिकार है जहाँ केस ही CM Versus State of Bihar हो?

छठवीं बार बिहार के सीएम पद की शपथ लेने वाले नीतीश कुमार को लेकर लालू ने कहा कि एक व्यक्ति की नृशंस हत्या करने व 302 के तहत हत्या के संगीन जुर्म में आरोपित नीतीश को CM बनते वक़्त अंतरात्मा ने पुकारा था या कुर्सीआत्मा ने? नीतीश पर 302, हत्या और आर्म्स ऐक्ट का केस है लेकिन फिर भी कंबल ओढ़कर व दूसरो को मायावी छवि का सफ़ेद कंबल ओढ़ाकर “God of Morality”बना हुआ है।

छठवी बार बिहार के मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार नीतीश कुमार ने सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। पीएम मोदी से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि आज की तारीख में पीएम नरेंद्र मोदी से मुकाबला करने की क्षमता किसी में नहीं है। उन्होंने कहा कि साल 2019 में फिर से नरेंद्र मोदी की सरकार बनेगी।

बता दें कि जेडीयू अध्यक्ष और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने अपने डिप्टी रहे और लालू के बेटे के ऊपर भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया था और महागठबंधन सरकार से खुद को अलग कर दिया था। अगले दिन बीजेपी के सहयोग से उन्होंने सरकार बनाई। तेजस्वी पर भ्रष्टाचार आरोप लगने के बाद से ही बीजेपी सरकार पर निशाना साध रही है और इस्तीफे का दबाव बना रही थी, लेकिन आरजेडी ने तेजस्वी के इस्तीफे से इनकार कर दिया था।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App